स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हिंदू नेता कमलेश तिवारी के मर्डर के बाद अपराध जारी, साकिर और उसके बेटी की गोली मारकर हत्या

Sarweshwari Mishra

Publish: Oct 19, 2019 11:37 AM | Updated: Oct 19, 2019 11:37 AM

Azamgarh

यह वजह बना हत्या का कारण, आरोपी गिरफ्तार

 

आजमगढ. मुबारकपुर थाना क्षेत्र के मदारपुर चट्टी गांव में मोबाइल के विवाद को लेकर देर रात घर में घुसकर तमंचा से हमला कर पिता पुत्री की हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ने शव को फावड़े से काटने का प्रयास किया। यहीं नहीं आरोपी ने मृतक की पत्नी पर भी हमला कर घायल कर दिया। घटना को अंजाम देकर भाग रहे आरोपी को मृतक की मां ने पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर हत्या में प्रयुक्त फावड़ा बरामद कर लिया है। वहीं आरोपी के घर से ढेर सारी मोबाइल बरामद की गयी है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। घायल का उपचार जिला अस्पताल में चल रहा है।

Murde Case
IMAGE CREDIT: Net

वाराणसी जिले के लोहता थाना क्षेत्र के महमुदपुरा ग्राम निवासी साकिर अपने परिवार संग पिछले 10 साल से मुबारकपुर थाना क्षेत्र के मदारपुरचट्टी गांव में रहता था। शुक्रवार की रात करीब एक बजे अज्ञात लोगों ने उसके घर में घुसकर पूरे परिवार पर हमला बोल दिया। हमले में साकिर (24) पुत्र रमजान अली व उसकी पांच माह की पुत्री समियल की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि पत्नी जैनब (22) इस हमले में गंभीर रूप से घायल हो गई।


स्थानीय लोगों के मुताबिक हमलावरों ने पहले पिता पुत्री को गोली मारी फिर उनके शव को फावड़े से काटने का प्रयास किया। जब जैनब ने विरोध किया तो फावड़े से हमला कर उसे घायल कर दिया। चीख पुकार सुनकर बगल के कमरे में सोयी मृतक की मां जग गयी और भाग रहे एक आरोपी को पकड़ लिया लेकिन वह छुड़ाकर भाग गया। घटना की जानकारी होने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक की मां के बताने पर आरोपी फरहान को गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त फावड़ा बरामद कर लिया। उसके घर से ढेर सारी मोबाइल भी बरामद की गयी। पुलिस अधीक्षक प्रो. त्रिवेणी सिंह के मुताबिक मोबाइल चोरी की होने की संभावना है। मृतक का भी अपराधिक इतिहास है। मृतक की मां ने बताया कि दोनों में मोबाइल को लेकर अक्सर विवाद होता था। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। घायल महिला को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

BY- Ranvijay Singh