स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कमलेश तिवारी की हत्या से नाराज ब्राह्मणों का विरोध प्रदर्शन, कहा- हिंदू समाज में दहशत फैलाने के लिये हुई हत्या

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Oct 20, 2019 17:32 PM | Updated: Oct 20, 2019 17:34 PM

Azamgarh

हत्यारों की गिरफ्तारी के साथ आश्रित को नौकरी की मांग

आजमगढ़. कमलेश तिवारी की नृशंस हत्या से ब्राह्मण समाज में गुस्सा साफ दिख रहा है। अखिल भारत वर्षीय ब्राह्मण महासभा के बैनर तले ब्राह्मण समाज के लोगों ने रविवार को कुंवर सिंह उद्यान में बैठक कर घटना की निंदा की साथ ही उनके आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। इस दौरान हत्यारों के तत्काल गिरफ्तारी और कमलेश तिवारी के परिजनों को सुरक्षा प्रदान करते हुए पर्याप्त मुआवजा, आश्रित को सरकारी नौकरी देने की मांग की।


हिसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को प्रखर हिन्दूवादी नेता बताते हुए महासभा के प्रदेश संरक्षक पंडित सुभाष चन्द्र तिवारी कुन्दन ने कहा कि कमलेश तिवारी की हत्या समाज में दहशत पैदा करने के उद्देश्य से की गयी है, जो निन्दनीय है। वे सदैव हिन्दू हितों की बात करते थे इसके बावजूद प्रदेश सरकार ने उनके सुरक्षा में कमी किया जिसका लाभ उठाकर उनकी आवाज को कुचलने का काम किया।


महासभा के मंडल अध्यक्ष सौरभ उपाध्याय ने कहा कि स्व. कमलेश तिवारी का बलिदान जाया नहीं जायेगा। समय रहते अगर सूबे के मुखिया ने कोई कठोर कदम नहीं उठा तो हिन्दू संगठन की नाराजगी का उन्हें कोपभाजन होना पड़ेगा। श्रद्धाजंलि सभा में हरिवंश मिश्रा, बृजेश दुबे, रामप्रकाश तिवारी, विष्णुकांत चैबे, अरविन्द पांडेय, अरूण पाठक, कृपाशंकर पाठक, हलधर दूबे, रामचन्द्र राय, गिरीश सेठ, शैलेश राय, अक्षयबर पटेल, सतीश मिश्र, डा सदानंद मिश्र, संजय कुमार पांडेय, वेदप्रताप पांडेय आदि मौजूद रहे।

BY- RANVIJAY SINGH