स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

UP: भाजपा के बुजुर्ग नेता को दबंगों ने बेरहमी से पीटा, पुलिस ने भी नहीं की कार्रवाई

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Oct 19, 2019 19:47 PM | Updated: Oct 19, 2019 20:06 PM

Azamgarh

डीजीपी तक पहुंचा मामला, कार्यकर्ताओं में दिख रहा है गुस्सा

आजमगढ़. योगी सरकार में आम आदमी की छोड़िये बीजेपी के नेता भी सुरक्षित नहीं हैं । जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र में एक बीजेपी नेता को दबंगों ने मारपीट कर लहूलुहान कर दिया। पीड़ित जब तहरीर लेकर थाने पहुंचा तो कोई कार्रवाई नहीं हुई। मजबूर पीड़ित ने डीजीपी से बात की तो एसपी के पास जाने के लिये कहा गया । आज भी पीड़ित न्याय के लिये भटक रहा है।

जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के पारनकुंडा गांव निवासी 70 साल के सिद्धनाथ शाही अपने घर के दरवाजे पर बैठे थे। तभी एक आदमी मछली बेचने आया। अभी वे मछली खरीद ही रहे थे कि तभी दबंग वहां पहुंचा और मछली बेचने वाले पर लाठी डंडा से हमला कर दिया। शाही के मुताबिक उन्हें लगा कि मछली बेचने वाला पिटाई से मर सकता है इसलिए उन्होंने उसे बचाने का प्रयास किया। इससे नाराज होकर दबंग ने उनपर हमला कर दिया और लाठी से पीटकर लहूलुहान कर छोड़ दिया।

इसके बाद वह लाटघाट चौकी पहुंचे, वहां दारोगा ने कहा कि आज मेले की तैयारी में व्यस्त है कोतवाली जाइए। जब वे कोतवाली गए तो कोतवाल एक सिपाही से मेडिकल कराने की बात कहकर कहीं चले गए लेकिन पांच घंटे तक उन्हें सिपाही अस्पताल नहीं ले गया। इसके बाद वह खुद अजमतगढ़ स्वास्थ्य केंद्र गए। वहां चिकित्सक ने बिना पुलिस के आये मेडिकल करने से मना करते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया। किसी ने नहीं सुनी तो थक हारकर उन्होंने डीजीपी को फोन लगाया। डीजीपी ने कहा एसपी के पास जाइए। फिर वह एसपी के पास गए तो अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण मिले, उन्होंने इस्पेक्टर से बात की। फिर उन्हें कोतवाली भेज दिया। वह घंटों से कोतवाली में बैठे है लेकिन कोई बात तक सुनने को तैयार नहीं है।

BY- RANVIJAY SINGH