स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ड्यूटी से गायब मिलने पर 31 अधिकारियों और 102 कर्मचारियों का वेतन काटने का निर्देश

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Dec 08, 2019 08:31 AM | Updated: Dec 08, 2019 08:31 AM

Azamgarh

सभी से स्पष्टीकरण भी मांगा गया।

आजमगढ. मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने शासकयी कार्यालयों में समय से अधिकारियों एवं कर्मचारियों उपस्थिति को सुनिश्चित करने एवं कार्यालयों की सफाई व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश से लगभग 5 दर्जन मण्डलीय कार्यालयों का औचक निरीक्षण कराया जिसमें कुल 133 अधिकारी एवं कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये तथा कई कार्यालयों की साफ सफाई भी अत्यन्त खराब पाई गयी। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी के निर्देश पर शनिवार को प्रातः 10.00 बजे से 11.45 बजे तक चले सघन निरीक्षण के दौरान कतिपय कार्यालयों में ताला लकटता हुआ भी पाया गया तो कुछ कार्यालयों में कर्मचारियों के अनुपस्थित रहने के कारण स्टाफ की उपस्थिति रजिस्टर की जाॅंच ही नही हो सकी जिससे पूर्ण वास्तविक स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी। निरीक्षण के दौरान विभिन्न कार्यालयों में अनुपस्थितों 102 कर्मचारी तथा 31 अधिकारी शामिल है। मण्डलायुक्त ने भारी संख्या में अनुपस्थिति मिलने सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी अनुपस्थितों का एक दिन का वेतन काटने के साथ ही सभी से स्पष्टीरकण प्रस्तुत करने का भी निर्देश दिया।

मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी द्वारा मण्डलीय कार्यालयों के निरीक्षण के सम्बन्ध में दिये गये निर्देश के क्रम मेें उप निदेशक महिला कल्याण द्वारा कुल चार कार्यालयों का निरीक्षण किया गया जिसमें अपर निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कार्यालय में कुल 7 कर्मचारी, संयुक्त शिक्षा निदेशक द्वारा 6 कार्यालयों के निरीक्षण में उप निदेशक मत्स्य पालन कार्यालय में अपर सांख्यिकीय अधिकारी फरीउद्दीन एवं एक कर्मचारी, अर्थ एवं संख्या कार्यालय में 1 कर्मचारी, उप आयुक्त एवं उप निबन्धक सहकारिता कार्यालय में 5 कर्मचारी, पशुपालन विभाग में 4 कर्मचारी, संयुक्त कृषि निदेशक द्वारा किये गये निरीक्षण के दौरान सहायक निदेशक स्थानीय निधि लेखा कार्यालय में एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को छोड़कर पूरा स्टाफ, आवास विकास कार्यालय में एक कर्मचारी एवं 5 अधिकारी अधिाशासी अभियन्ता महेन्द्र कुमार, सहायक अभियन्ता अभिषेक वर्मा, अवर अभियन्ता पंकज कुमार, रामवृक्ष सिंह यादव छोटकुन, क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी कार्यालय में 2 कर्मचारी, लघु सिंचाई विभाग में 6 कर्मचारी, अधीक्षण अभियन्ता विद्युत पारेषण कार्यालय में 5 कर्मचारी, परियोजना अधिकारी बीज विकास निगम कार्यालय में 1 कर्मचारी एवं दो अधिकारी आरके श्रीवास्तव व चन्द्रभान वर्मा अनुपस्थित पाये गये। अधीक्षण अभियनता जल निगम द्वारा किये गये निरीक्षण में मण्डलीय अभियन्ता यूपी एग्रो कार्यालय में 1 अधिकारी मण्डलीय अभियन्ता पूजन राम, क्षेत्रीय प्रबन्धक यूपी एग्रो कार्यालय में 3 कर्मचारी व एक अधिकारी क्षेत्रीय प्रबन्धक लक्ष्मण राम, उप श्रमायुक्त कार्यालय में एक कर्मचारी, गन्ना अधिकारी में 2 कर्मचारी, उप निदेशक पंचायती राज के निरीक्षण में संयुक्त कृषि निदेशक कार्यालय में 5 कर्मचारी, परिक्षेत्रीय खादी ग्रामोद्योग कार्यालय में 2 कर्मचारी व 2 अधिकारी परिक्षेत्रीय ग्रामोद्योग प्रबन्धक व सहायक विकास अधिकारी वीपी धर, संयुक्त आयुक्त जीएसटी कार्यालय में 6 कर्मचारी व एक अधिकारी संयुक्त आयुक्त रविन्द्र पाण्डेय, मुख्य अभियन्ता विद्युत कार्यालय में एक अधिकारी मुख्य अभियनतरा आरआर सिंह व 7 कर्मचारी, अधीक्षण अभियनता विद्युत कार्यालय में एक अधिकारी अधीक्षण अभियन्ता अशोक कुमार व 3 कर्मचारी, सहायक रजिस्ट्रारफम्र्स सासाइटीज कार्यालय में 2 कर्मचारी, सहायक नियन्त्रक माप एवं बाट कार्यालय में 1 अधिकारी सहायक नियन्त्रक बाट माप अनुज कुमार प्रियदर्शी व 1 कर्मचारी, उप आबकारी आयुक्त द्वारा 6 कार्यालयों के निरीक्षण के दौरान मुख्य अभियन्ता लोनिवि कार्यालय में 1 अधिकारी व 4 कर्मचारी, अधीक्षण अभियन्ता सिंचाई कार्यालया में 1 अधिकारी, अधीक्षण अभियन्ता नलकूप विभाग में 1 अधिकारी व 7 कर्मचारी, संभागीय खाद्य नियंत्रक कार्यालय में 4 कर्मचारी एवं संयुक्त निदेशक उद्योग कार्यालय में 2 कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये।

इसी प्रकार अपर आयुक्त (प्रशासन) धर्मेन्द्र सिंह ने अपने निरीक्षण के दौरान क्षेत्रीय सेवायोजना कार्यालय में 4 कर्मचारियों, होमगार्ड कार्यालय व महिला कल्याण विभाग में 1-1 कर्मचारी को तथा मण्डलीय चिकित्सालय में 3 अधिकारियों डा. रईस अहमद फीजिशियन, डा. अहमद जमाल फीजिशियन, एसएन मिश्र चीफ फार्मासिट एवं 7 कर्मचारियेां को, उपायुक्त खाद्य केपी मिश्र ने क्षेत्रीय प्रबन्धक पीसीएफ कार्यालय में 4 कर्मचारियों, परियोजना प्रबन्धक राजकीय निर्माण निगम में 1 अधिकारी जेई एसपी सिंह व 1 कर्मचारी को अनुपस्थित पाया। इसी प्रकार उप निदेशक मत्स्य पालन के निरीक्षण में मण्डलीय परियोजना प्रबन्धक सिफ्सा कार्यालय में 1 अधिकारी, उप निदेशक सिंचाई एवं जन संसाधन कार्यालय में 1 अधिकारी व 2 कर्मचारी अनुपस्थित मिले।

मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने जहां अनुपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों का वेतन काटने एवं स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है वहीं समस्त मण्डलीय अधिकारियों को आगाह किया कि कार्यालयों में समय से उपस्थिति एवं साफ सफाई का आकस्मिक निरीक्षण लगातार जारी रहेगा, इसलिए स्वयं तथा अधीनस्थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कार्यालय में समय से उपस्थिति सुनिश्चित कराई जाय। इसके साथ ही कार्यालयों की साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाय।

By Ran Vijay Singh

[MORE_ADVERTISE1]