स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नौकरी के नाम पर ठगने वाला आरोपी गिरफ्तार

Shribabu Gupta

Publish: May 26, 2017 13:02 PM | Updated: May 26, 2017 13:02 PM

Aurangabad

बेरोजगारों को नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रूपये ऐंठने वाले एक गिरोह का पुलिस ने खुलासा किया है...

रोहतास। बेरोजगारों को नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रूपये ऐंठने वाले एक गिरोह का पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने गिरोह के एक सदस्य को नाटकीय ढंग से एनीकट से गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने उसके पास से एक कार, बाइक, लैपटॉप, कई फर्जी दस्तावेज, कार्ड व अन्य आपत्तिजनक सामान बरामद किया है। पुलिस ने गिरोह के सरगना व अन्य लोगों की तलाश में रोहतास व औरंगाबाद में छापेमारी कर रही है।

इस संबंध में नगर थाने में दर्ज प्राथमिकी में बारह पत्थर के निवासी इरफान कुरैशी व धनटोलिया मोहल्ला के दीपक सोनी ने कहा है कि वह नौकरी की तलाश में थे। इसी दौरान उसकी मुलाकात औरंगाबाद जिले के बारूण थाना क्षेत्र के कुंड़वा गां के निवासी पंकज कुमार सिंह से हुई।

उसने बताया कि वह एक एनजीओ चलाता है। उसने स्कूल में एमडीएम के भोजन निरीक्षण अधिकारी, नई दिशा पब्लिक सर्विसेज के नाम पर नौकरी लगाने की बात कही। इसके लिए उसने डेहरी के विभिन्न स्थानों से करीब दो दर्जन लोगों से लाखों रूपये ऐंठ लिए। चार माह बादतक नौकरी नहीं मिली, तो पैसा मांगने लगे। तब वह धमकी देने लगा।

आवेदकों का कहना है कि पंकज कुमार के अलावे औरंगाबाद के सिन्हा कॉलेज के समीप मीरा रजक नामक महिला भी बेरोजगारों को झांसा देकर रूपए ऐंठती है। पुलिस ने प्राथमिकी के आधार पर गिरोह के सदस्य बोकारों के चांदपुरा के निवासी ललन प्रसाद को फोन करके नौकरी मांगने के लिए बुलाया और उसे धर दबोचा। प्रभारी थानाध्यक्ष गणेश यादव ने कहा कि अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लि छापेमारी चल रही है।