स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हांगकांग में दूसरे दिन भी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें रद्द, हवाई अड्डे पर डटे प्रदर्शनकारी

Anil Kumar

Publish: Aug 13, 2019 16:33 PM | Updated: Aug 13, 2019 16:33 PM

Asia

  • हांगकांग में विवादित प्रत्यर्पण बिल को लेकर लोगों का विरोध प्रदर्शन 10वें सप्ताह भी जारी है
  • चीन ने कहा कि प्रदर्शनकारी जल्द से जल्द खत्म करें प्रदर्शन, नहीं तो कार्रवाई की जाएगी

हांगकांग। विवादित प्रत्यर्पण बिल को लेकर हांगकांग में लगातार विरोध प्रदर्शन का दौर जारी है। सरकार विरोधी प्रदर्शनों के कारण लगातार दूसरे दिन हांगकांग अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सभी उड़ानों के चेक-इन को निलंबित कर दिया गया है।

हांगकांग हवाई अड्डा, जो कि दुनिया के सबसे व्यस्त एयरपोर्ट में से एक है, लगातार पांचवें दिन भी विरोध प्रदर्शन का केंद्र बना रहा।

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियों में दिख रहा है कि यात्रियों और प्रदर्शनकारियों के बीच संघर्ष हो रहा है। उड़ानें अवरुद्ध होने के कारण यात्री एयरपोर्ट के अंदर बैठे हैं। शहर की नेता कैरी लैम ने प्रदर्शनकारियों को एक चेतावनी जारी की है।

हांगकांग में प्रदर्शनकारियों को चीन की चेतावनी, जल्द हालात न सुधरे तो चुप नहीं रहूंगा

कैरी लैम ने कहा कि हांगकांग खतरनाक स्थिति में पहुंच गया है और विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा ने हांगकांग के वापसी के रास्ते बंद कर दिए हैं।

हवाई अड्डे पर लगातार भीड़ बढ़ने के साथ ही अधिकारियों ने घोषणा की कि सभी चेक-इन को मंगलवार की शाम साढ़े चार (4:30PM) बजे तक निलंबित कर दिया गया है।

हांगकांग में प्रदर्शन

हांगकांग में लगातार 10वें सप्ताह प्रदर्शन जारी

हवाई अड्डा प्राधिकरण (एए) ने एक बयान में कहा कि हांगकांग अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर टर्मिनल संचालन सार्वजनिक सभा के परिणामस्वरूप गंभीर रूप से बाधित हो गया है। सोमवार को भी विरोध प्रदर्शन के कारण हवाई अड्डे पर सैकड़ों उड़ान रद्द कर दी थी।

हांगकांग में विरोध प्रदर्शन के दौरान 16 घायल, 49 लोग गिरफ्तार

बता दें कि प्रदर्शनकारियों का विरोध लगातार 10वें सप्ताह भी विरोध जारी रहा। हांगकांग में एक प्रस्तावित प्रत्यर्पण बिल के जवाब में बड़े विरोध प्रदर्शन शुरू हुए, हालांकि व्यापक विरोध-प्रदर्शन को देखते हुए पहले ही बिल को निलंबित कर दिया गया है, लेकिन वे लोकतंत्र समर्थक आंदोलन की मांग कर रहे हैं।

मंगलवार को मानवाधिकार के लिए संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त, मिशेल बाचेलेट ने अधिकारियों से विरोध की प्रतिक्रिया में संयम बरतने का आग्रह किया है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.