स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रधान आरक्षक से मारपीट का वीडियो हुआ वायरल, लंबे समय से चल रहा है ग्रामीणों से विवाद

Deepesh Tiwari

Publish: Sep 10, 2019 12:22 PM | Updated: Sep 10, 2019 13:46 PM

Ashoknagar

- पुलिस और ग्रामीणों में मारपीट

- कचनार गांव में हुआ विवाद

अशोकनगर। मध्य प्रदेश के एक गांव में पुलिस के प्रधान आरक्षक और ग्रामीणों के बीच विवाद हो गया। जिसमें ग्रामीणों ने मिलकर प्रधान आरक्षक की मारपीट कर दी और इस मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

प्रधान आरक्षक और ग्रामीणों के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा था, एसपी ने प्रथम दृष्टया प्रधान आरक्षक को लाइन अटैच कर दिया है और मामले की जांच के निर्देश दिए हैं।

मामला जिले के कचनार गांव में रविवार शाम का है। कचनार थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक वाजिद बेग और सरपंच के भाई करतारसिंह के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया और दोनों में आपस में मारपीट हो गई। प्रधान आरक्षक सिविल ड्रेस में था और किसी ने इस मारपीट का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

घटना के बाद पुलिस थाने में दोनों ने एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत की है। थाना प्रभारी पूनम सेलर के मुताबिक प्रधान आरक्षक वाजिद बेग ने शिकायत की है कि वह ताजियों के रास्ता विवाद की जानकारी लेने गांव में गए थे, एक जगह बैठे थे जहां सरपंच के भाई करतारसिंह यादव ने आकर विवाद कर किया और मारपीट हो गई।

वहीं करतारसिंह ने शिकायत की है कि प्रधान आरक्षक वाजिद वेग ने विवाद किया और मारपीट करने लगा। हालांकि अब पुलिस दोनों शिकायतों की जांच कर रही है।

लंबे समय से चल रहा है दोनों पक्षों में विवाद
प्रधान आरक्षक और ग्रामीणों में करीब दो महीने से विवाद चल रहा है। सरपंच सहित दो दर्जन ग्रामीणों ने 20 दिन पहले अशोकनगर आकर एसपी से प्रधान आरक्षक वाजिद वेग की शिकायत की थी और कहा था कि वह घरों में बैठते और महिलाओं से चर्चा करते हैं, साथ ही प्रधान आरक्षक के चरित्र पर संदेह जताया था।

इसके बाद गांव के कुछ लोग प्रधान आरक्षक के पक्ष में एसपी के पास पहुंचे थे और उन्होंने सरपंच पर मुरम का उत्खनन करने का आरोप लगाया था और प्रधान आरक्षक को अच्छा बताया था।

प्रधान आरक्षक वाजिद वेग और आरक्षक रानू जोशी को लाइन अटैच कर दिया है, दोनों के बीच विवाद की जांच कराई जा रही है और जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।
- पंकज कुमावत, एसपी