स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अप्राकृतिक संबंधों का विरोध करने पर शादी के 42 दिन बाद ही पत्नी को दे दिया तीन तलाक

lokesh verma

Publish: Aug 21, 2019 15:03 PM | Updated: Aug 21, 2019 15:03 PM

Amroha

- पुलिस ने गंभीर धाराओं में आरोपी पति समेत सास, ननद और देवर के खिलाफ दर्ज किया केस
- अप्राकृतिक संबंध व गर्भपात का विरोध करने पर पीड़िता को बनाया बंधक
- मुरादाबाद जिले के डिडौली कोतवाली क्षेत्र का मामला

अमरोहा. जिले में फिर एक तीन तलाक का नया मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि डिडौली कोतवाली क्षेत्र के एक युवक ने निकाह के 42 दिन बाद ही पत्नी को फोन पर तीन तलाक दे दिया है। पीड़िता ने पुलिस को शिकायत देते हुए आरोप लगाया है कि पति ने जबरन उसका गर्भपात कराया है। इतना ही नहीं उसके साथ पति ने जबरन अप्राकृतिक संबंध भी बनाए हैं। पीड़िता ने सास-ननद पर भी मारपीट व बंधक बनाने का आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस गंभीर धाराओं में केस दर्ज करते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है।

दरअसल, तीन तलाक का ये मामला मुरादाबाद के डिडौली कोतवाली क्षेत्र का है। जहां के रहने वाले एक युवक से आठ जुलाई मुगलपुरा थाना क्षेत्र की रहने वाली एक युवती से हुई थी। पीड़िता का आरोप है कि निकाह के बाद से ही पति उसके साथ अप्राकृतिक संबंध भी बनाने लगा। जब वह गर्भवती हो गई तो पति उसे अपने झोलाछाप डाॅक्टर भाई के पास ले गया। जहां दोनों भाइयों ने उसे गर्भपात की दवा खिला दी। दवा खाते ही उसकी हालत खराब हो गई । जब उसने पति की शिकायत अपनी सास और ननद से की तो वह पति को कुछ कहने बजाय उस पर ही आगबबूला हो गई आैर उससे मारपीट करते हुए घर में बंद कर दिया।

यह भी पढ़ें- बहन से मिलने पहुंचे पांच भाइयों काे ससुरालियों ने बेहरमी से पीटा, पुलिस ने भी पीड़ितों को ही किया प्रताड़ित

इसके बाद किसी तरह उसने डायल 100 पुलिस को सूचना दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने उसको बंधन मुक्त कराया। उसके बाद से वह मायके में रह रही थी। आरोप है कि 16 अगस्त को पीड़िता ने पति को फोन किया। बातचीत के आधे घंटे बाद फिर से पति का फोन आया आैर उसने सीधे फोन पर ही तीन बार तलाक, तलाक, तलाक बोल दिया। शिकायत पर डिडौली पुलिस ने पीड़िता के पति, देवर, सास व ननद के खिलाफ मारपीट के अलावा अप्राकृतिक संबंध, गर्भपात कराने के साथ ही मुस्लिम महिला विवाह अधिकारों की सुरक्षा के तहत केस दर्ज कर लिया है। डिडौली इंस्पेक्टर शरद मलिक का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच हो रही है।

यह भी पढ़ें- Yamuna Expressway: टोल प्लाजा पर तय समय से पहले पहुंचे तो अब भरना होगा दो हजार का जुर्माना