स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूपी: इस जिले में स्वाइन फ्लू आशंकित मरीज मिलने से हड़कंप, मंडल भर में अलर्ट जारी

Jai Prakash

Publish: Sep 15, 2019 17:07 PM | Updated: Sep 15, 2019 17:07 PM

Amroha

Highlights

  • पहले मुरादाबाद के प्राइवेट अस्पताल में कराया भर्ती
  • स्वाइन फ्लू के लक्षण मिलने पर किया दिल्ली रेफर
  • स्वास्थ्य विभाग ने सरकार लैब से मंगाई रिपोर्ट

अमरोहा: डेंगू और मलेरिया के बढ़ रहे मरीजों के बीच जनपद में स्वाइन फ्लू आशंकित मरीज मिलने से पूरे मंडल में हड़कंप मच गया है। स्वास्थ्य विभाग ने मरीज के घर पहुंचकर उसके सभी परिजनों का चेकअप करने के साथ ही सभी अस्पतालों में अलर्ट जारी किया है। वहीँ मरीज का इलाज भी दिल्ली में प्राइवेट अस्पताल में चल रहा है।

Update: फीस जमा करने के विवाद में हुई थी सुभारती विश्वविद्यालय के कार्यालय अधीक्षक की हत्या, पांच गिरफ्तार

दिल्ली रेफर

जानकारी के मुताबिक शहर के मुहल्ला चिल्ला के जिया उल नबी उम्र दराज हैं और अपने परिवार के साथ ही रहते हैं। उनको खांसी, नजला, बुखार और हाथ पैरों में दर्द आदि की शिकायत थी। अचानक सप्ताह भर पहले उनकी हालत अधिक खराब हो गई। परिजनों ने मुरादाबाद स्थित बुजुर्ग को साईं अस्पताल में भर्ती कराया। वहां चिकित्सकों ने निजी लैब से जांच कराई तो आशंकित स्वाइन फ्लू की पुष्टि कर दी। जिससे परिजनों के हाथ-पांव फूल गए। चिकित्सकों ने गंभीर हालत में दिल्ली में हायर सेंटर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। वहां चिकित्सकों ने राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र को जांच के लिए रिपोर्ट भेजी है।

Big Breaking: पूर्व प्रधानमंत्री के बेटे ने कहा- आप से तो दूरी ही अच्छी

रिपोर्ट आने का इन्तजार

चिकित्सक जांच रिपोर्ट आने के बाद ही ही कुछ कहने की बात कह रहे हैं। शहर में स्वाइन फ्लू मरीज के मिलने की सूचना पर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। चिकित्सकों की टीम तुरंत रोगी के घर पहुंची और अन्य परिजनों का चेकअप कर उन्हें दवाई दी। नोडल अधिकारी डॉ. विनोद कुमार ने बताया अभी मरीज की जांच रिपोर्ट सरकारी संस्था से नहीं आई है। रिपोर्ट के बाद ही स्वाइन फ्लू की पुष्टि की जाएगी। उन्होंने बताया कि स्वाइन फ्लू आशंकित मरीज की तीन जांच होती है। जिसमें एच वन, एन वन और स्वाइन टेस्ट होता है। जबकि प्राइवेट लैब ने मरीज की जांच में एच वन और एन वन की पुष्टि की है।