स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूपी: संभल में सिपाहियों की हत्या के बाद अब अमरोहा में किसान की गोली मारकर हत्या

Jai Prakash

Publish: Jul 18, 2019 17:17 PM | Updated: Jul 18, 2019 17:17 PM

Amroha

मुख्य बातें

  • खेत पर पानी लगा रहे किसान की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी
  • बदमाश वहां पहुंचे तथा बेटे सुमित से मोबाइल छीनने लगे
  • शोर मचाते हुए बदमाशों को पकडऩे का प्रयास किया

 

अमरोहा: संभल में दो सिपाहियों की हत्या में जोन की पुलिस अभी बदमाशों की धड़पकड़ को अभियान चला ही रही थी, कि बीती रात जनपद के आदमपुर थाना क्षेत्र में खेत पर पानी लगा रहे किसान की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। जिससे पूरे इलाके में सनसनी फ़ैल गयी है। सूचना पर एसपी विपिन ताडा मौके पर पहुंचे और परिजनों से पूछताछ कर पुलिस को जल्द खुलासे के निर्देश दिए।

Viral Video: छात्रा से छेड़छाड़ कर रहा था विशेष समुदाय का युवक, शोर मचा तो लोगों ने कर दी 'ठुकाई'

खेत में लगा रहे थे पानी

जानकारी के मुताबिक गांव निवासी जयपाल सिंह 55 वर्ष अपने पुत्र सुमित कुमार के साथ गांव से लगभग 200 मीटर दूर फरोटा मार्ग पर अनुज कुमार के नलकूप पर अपनी धान की फसल की सिंचाई करने गए थे। बेटा सड़क पर बैठा हुआ मोबाइल चला रहा था जबकि पिता अंदर खेत में पानी चला रहे थे। इसी दौरान बाइक सवार तीन बदमाश वहां पहुंचे तथा बेटे सुमित से मोबाइल छीनने लगे। सुमित ने मोबाइल छीनने का विरोध किया तो बदमाश मारपीट करने लगे। चीख पुकार सुनकर पानी लगा रे जयपाल सिंह खेत से निकल कर आए। पिता ने शोर मचाते हुए बदमाशों को पकडऩे का प्रयास किया। इसी दौरान एक बदमाश ने किसान जयपाल सिंह को गोली मार दी।

5 कुंतल पॉलीथिन जब्त, 1 लाख 42 हजार का लगाया जुर्माना, देखें वीडियो

इलाके में हडकंप

परिजन आनन-फानन में उन्हें लेकर हसनपुर निजी अस्पताल पहुंचे, लेकिन चिकित्सक ने देखते ही उन्हें मृत घोषित कर दिया। मौत के बाद शव लेकर परिजन घर लौट आए। किसान की हत्या होने की सूचना से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। सूचना पर थाना पुलिस के साथ ही एसपी भी मौके पर पहुंचे।

Youtube से गुर सीखकर B.sc का छात्र चैन स्नैचिंग की वारदातों को देता था अंजाम, देखें वीडियो

पुलिस पर सवाल

यहां बता दें कि इस घटना के बाद पूरे जोन में कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं। जिसमें बेख़ौफ़ बदमाशों ने पहले सिपाहियों की हत्या कर न उनकी रायफल लूटी, बल्कि इधर मोबाइल के लिए किसान की हत्या।