स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इधर MODI ने हटाई धारा 370, उधर पाक ने सीमा पर किया घिनौना काम, युवा है मेन टारगेट

Prateek Saini

Publish: Aug 06, 2019 22:28 PM | Updated: Aug 06, 2019 22:28 PM

Amritsar

International Drugs Smuggling: उच्च अधिकारियों का कहना है कि पूर्व योजना के अनुसार समझौता एक्सप्रेस ( Samjhauta Express ) के माध्यम से यह काम किया गया है...

(अमृतसर): जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 ( Article 370 ) हटने के बाद जहां देश में खुशी की लहर है, वहीं पाकिस्तान ( Pakistan ) की ओर से लगातार विरोधी बयान सामने आ रहे हैं। भारत और पाक के बीच तनातनी चल रही है इसी बीच एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने पाकिस्तान की नापाक हरकत का पर्दाफाश कर दिया है।


पाक तस्कर भेज रहे हेरोइन

International Drugs Smuggling

दरअसल पाकिस्तान की ओर से भारत में नशे की खेप भेजी जा रही है। इसके लिए अब पाकिस्तानी तस्करों ने एक नया तरीका ईजाद कर लिया है। जिससे ना तो कोई पकड़ में आ पाए और नशा भी भारत पहुंच जाए। हेरोइन जैसे नशीले पदार्थ इस खेप में शामिल है जो बड़ी संख्या में देश के युवओं की जिंदगी को नरक बना रही है। मंगलवार को इस मामले का खुलासा हुआ तो जांच दल भी चौंक गए।

 

ट्रेन ( Samjhauta Express ) से किसी ने फेंका हेरोइन भरा बैग

International Drugs Smuggling

जीआरपी अटारी के मुताबिक भारत की ओर पड़ने वाले अटारी स्टेशन से पाकिस्तान के वाघा स्टेशन के लिए सोमवार दोपहर करीब 3.20 पर समझौता एक्सप्रेस रवाना हुई। गार्ड वाले डिब्बे से अज्ञात व्यक्ति ने पाकिस्तान में ट्रेन के प्रवेश करने से पहले भारतीय क्षेत्र में एक बैग फेंका। उसी समय दो अन्य लोग वहां पहुंचे और उसे उठाने की कोशिश की। पास में ही पशु चरा रहे गांव वालों ने उन्हें ऐसा करने से रोका। अज्ञात लोगों ने पहले गांव वालों को पैसों का लालच दिया, लेकिन गांव वासी के इंकार करने पर उन्होंने उसे जान से मारने की धमकी दी। गांव वासी ने पास ही स्थित जीआरपी ( GRP ) की पोस्ट पर तैनात एक कर्मचारी को ऊंची आवाज देकर बुलाया तो दोनों भाग गए। जीआरपी के जवानों ने जब बैग को खोला तो इसके अंदर से हेरोइन के तीन पैकेट बरामद हुए, जिसकी तुरंत सूचना उन्होंने अपने आला अधिकारियों को दी। उच्च अधिकारियों का कहना है कि पूर्व योजना के अनुसार यह बैग फेंका गया था लेकिन सर्तकता के चलते तस्करी का यह फार्मूला फैल हो गया।

 

जांच में जुडी खुफिया एजेंसियां

International Drugs Smuggling

देर शाम जीआरपी की टुकड़ी सहित अन्य खुफिया एजेंसियां इसकी जांच में जुट गईं। अटारी रेलवे स्टेशन पर तैनात एक सीनियर अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर इस घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि जीआरपी मामले की जांच कर रही है। उसके बाद ही बाकी की जानकारी मिल पाएगी।


पंजाब की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: VIDEO: लोकसभा में गरजे अमित शाह , कहा- कश्मीर ? के लिए जान दे सकता हूं