स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बॉर्डर पर दिख रहे पाकिस्तानी ड्रोन, घुसपैठ रोकने को BSF अपनाएगी यह नई टेक्नोलॉजी

Prateek Saini

Publish: Oct 09, 2019 22:25 PM | Updated: Oct 09, 2019 22:25 PM

Amritsar

इधर ड्रोन (Pakistan Drone) के जरिए भारत में बढ़ रही घुसपैठ को देखते हुए (Amit Shah) केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) ने (Home Ministry) भारतीय (Indian BSF) सीमा सुरक्षा बल (Border Security Force) को तुरंत नई तकनीक (Anti Drone Technology) अपनाने का कहा है, इससे घुसपैठ को रोका जा सकेगा, इसी के साथ...

(अमृतसर, फिरोजपुर): पाकिस्तान की सीमा से लगने वाले पंजाब के सीमावर्ती इलाकों में ड्रोन दिखने का सिलसिला लगातार जारी है। किसी ना किसी इलाके में पाकिस्तान के टोली ड्रोन लगातार देखे जा रहे हैं। इस हवाई घुसपैठ से निपटने के लिए अब गृह मंत्रालय ने आदेश जारी कर बीएसएफ को नई तकनीक अपनाने को कहा है।

 

Punjab News, Punjab News, Terrorist Funding, Capt Amarinder Singh, Punjab CM, Punjab News in Hindi, Punjab News, Khalistan Terrorist, Khalistan Terrorist, Home Ministry in Punjab, Amit Shah, Anti Drone Technology, Pakistani Drones, BSF, Ferozepur News, Hussainiwala border, Union Ministry of Home Affairs,Border Security Force

ड्रोन दिखाई देने का ताजा मामला पंजाब के फिरोजपुर में पड़ने वाली हुसैनीवाला बॉर्डर का है। यहां मंगलवार रात पाकिस्तानी ड्रोन दिखाई दिए। इन पर बीएसएफ ने फायरिंग भी की लेकिन ऊंचाई ज्यादा होने की वजह से ड्रोन पाक की तरफ बच निकला। पाक ड्रोन को सीमांत ग्रामीणों ने गांव हजारा सिंह वाला व टिंडी वाला के ऊपर उड़ते हुए अपने घरों की छतों से देखा है।


सर्च आपरेशन जारी, बीएसएफ चौकस

Punjab News, Punjab News, Terrorist Funding, Capt Amarinder Singh, Punjab CM, Punjab News in Hindi, Punjab News, Khalistan Terrorist, Khalistan Terrorist, Home Ministry in Punjab, Amit Shah, Anti Drone Technology, Pakistani Drones, BSF, Ferozepur News, Hussainiwala border, Union Ministry of Home Affairs,Border Security Force

सोमवार को भी ड्रोन दिखाई दिया था जिसके बाद से सीमांत इलाकों में बीएसएफ व पुलिस का सर्च अभियान जारी था। मंगलवार रात को फिर ड्रोन दिखने के बाद से बुधवार को भी सर्च आपरेशन चलता रहा।

पाक से ड्रोन आना बहुत खतरनाक

Punjab News, Punjab News, Terrorist Funding, Capt Amarinder Singh, Punjab CM, Punjab News in Hindi, Punjab News, Khalistan Terrorist, Khalistan Terrorist, Home Ministry in Punjab, Amit Shah, Anti Drone Technology, Pakistani Drones, BSF, Ferozepur News, Hussainiwala border, Union Ministry of Home Affairs,Border Security Force

उधर, बीएसएफ के एक अधिकारी का कहना है कि पंजाब से सटी भारत-पाक सीमा पर भारतीय इलाके में पाक ड्रोन की घटना कुछ दिनों से घटने लगी है। पाकिस्तान किस इरादे से भारतीय क्षेत्र में बार-बार ड्रोन भेज रहा है इसकी चिंता सताने लगी है। तरनतारन व अमृतसर साइड तो ड्रोन के जरिए हथियार भेजे गए थे, लेकिन हुसैनीवाला बॉर्डर की तरफ पाक से ड्रोन आना बहुत खतरनाक है। बीएसएफ ने ऐसे ड्रोनों पर पैनी नजर रखना शुरू कर दिया है। इसे गिराने के लिए किसी ऐसे हथियार का इस्तेमाल करेंगे जिससे हवा में सटीक निशाना लग सके। ड्रोन सीमांत क्षेत्र में क्या फेंक गए हैं इसके बारे में भी अब तक कोई सुराग नहीं मिला है।


गृह मंत्रालय का आदेश, अपनाएंगे यह टेक्नोलॉजी

Punjab News, Punjab News, Terrorist Funding, Capt Amarinder Singh, Punjab CM, Punjab News in Hindi, Punjab News, Khalistan Terrorist, Khalistan Terrorist, Home Ministry in Punjab, Amit Shah, Anti Drone Technology, Pakistani Drones, BSF, Ferozepur News, Hussainiwala border, Union Ministry of Home Affairs,Border Security Force

इधर ड्रोन के जरिए भारत में बढ़ रही घुसपैठ को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भारतीय सीमा सुरक्षा बल को तुरंत एंटी ड्रोन टेक्नोलॉजी हासिल करने के लिए विस्तृत योजना बनाने को कहा है। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार सरकार बीएसएफ के अलावा दूसरे अर्धसैनिक बलों को भी इस तरह की तकनीक की पहचान और इसे हासिल करने को भी जल्द दिशा निर्देश देगी। अभी एंटी ड्रोन तकनीक सिर्फ भारतीय सेना के पास है जबकि अर्धसैनिक बलों के पास ऐसी तकनीक का अभाव है। गृहमंत्री अमित शाह ने पिछले हफ्ते सीमा सुरक्षाबलों के साथ बैठक में इस संबंध में निर्देश दिए थे।


चेता रही रिपोर्टस

खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट में कहा गया था कि आने वाले दिनों में पाकिस्तान ड्रोन के जरिए निगरानी व हमले जैसी गतिविधियां तेज करेगा। ऐसे में इस समस्या से निपटने के लिए बीएसएफ समेत अन्य अर्धसैनिक बलों के पास एंटी ड्रोन तकनीक होना बड़ा जरूरी है।

पंजाब की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: Video: दशहरे का खूनी मंजर, ट्रेन की चपेट में आए थे 60 लोग, मदद को भटक रहे पीड़ित परिवार