स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बीएसए कार्यालय में मनाया गया शिक्षक सम्मान बचाओ दिवस, शिक्षकों की मांगों पर ध्यान नहीं दे रही सरकार

Neeraj Patel

Publish: Sep 05, 2019 16:37 PM | Updated: Sep 05, 2019 16:37 PM

Amethi

हर वर्ष उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा आयोजित होने वाले शिक्षक सम्मान दिवस को शिक्षक सम्मान बचाओ दिवस के रूप में आयोजित किया गया।

अमेठी. हर वर्ष उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा आयोजित होने वाले शिक्षक सम्मान दिवस को शिक्षक सम्मान बचाओ दिवस के रूप में आयोजित किया गया। संगठन के जिला अध्यक्ष अशोक मिश्रा की अगुवाई में सैकड़ों की संख्या में एकत्र शिक्षकों ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय पर हो शिक्षक सम्मान बचाओ दिवस कार्यक्रम में भाग लिया।

शिक्षकों की मांगों पर ध्यान नहीं दे रही सरकार

इस कार्यक्रम में खास करके शिक्षक प्रेरणा एक जैसे तमाम मांगों को लेकर अपना विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं कार्यक्रम को लेकर संगठन के जिला अध्यक्ष अशोक मिश्रा ने कहा कि हम पूर्व में शिक्षक दिवस को द्वितीय राष्ट्रपति डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस के रूप में मनाते थे लेकिन सरकार शिक्षकों की मांगों पर ध्यान नहीं दे रही है। शिक्षकों के सम्मान के विरुद्ध सरकार तानाशाही कर रही है सरकार हमारी जायज मांगों को नहीं मान रही है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम सरकार से अपील करते हैं कि सरकार विद्यालय में लिपिक तो दे दे। सरकार विद्यालयों की जर्जर व्यवस्था तो सुधार दे लेकिन इन सब मांगों को ना मांग कर सरकार तानाशाह रवैया लागू कर रही है। जिससे परेशान होकर हम सबसे अच्छा आज शिक्षक दिवस को शिक्षक सम्मान दिवस के रूप में नहीं बल्कि शिक्षक सम्मान बचाओ दिवस के रूप में मना रहे हैं।

ये भी पढ़ें - प्राइमरी स्कूल की इस शिक्षिका ने ऐसा क्या किया कि सीएम योगी ने राज्य स्तरीय शिक्षक सम्मान से नवाजा