स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

स्मृति ईरानी व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने किया अमेठी का दौरा, केंद्रीय मंत्री ने दिया बड़ा बयान

Abhishek Gupta

Publish: Oct 22, 2019 22:16 PM | Updated: Oct 22, 2019 22:16 PM

Amethi

सांसद व केंद्रीय मंत्री भारत सरकार स्मृति जुबिन ईरानी के साथ आज उत्तर प्रदेश की महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल अपने एक दिवसीय दौरे पर सुबह 10:10 पर अमेठी के मुंशीगंज स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के हेलीपैड ग्राउंड पर पहुंची।

अमेठी. सांसद व केंद्रीय मंत्री भारत सरकार स्मृति जुबिन ईरानी के साथ आज उत्तर प्रदेश की महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल अपने एक दिवसीय दौरे पर सुबह 10:10 पर अमेठी के मुंशीगंज स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के हेलीपैड ग्राउंड पर पहुंची। जहां पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पहले से ही मौजूद रही। महामहिम राज्यपाल महोदय के आते ही दोनों लोग मुंशीगंज से गौरीगंज के असैदापुर स्थित निर्माणाधीन मलिक मोहम्मद जायसी संयुक्त जिला चिकित्सालय का अवलोकन करने पहुंची। वहां से अवलोकन करने के उपरांत वर्तमान में चल रहे संयुक्त जिला चिकित्सालय में पहुंच कर किया निरीक्षण।

मरीजों से जाना उनका हालचाल। उसके बाद जिला चिकित्सालय में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत चलाए जाने वाले आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थियों को अपने हाथों वितरित किया गोल्डन कार्ड। इसी के साथ महिला हेल्थ केयर कैंप का फीता काटकर राज्यपाल महोदया किया शुभारंभ। तत्पश्चात महामहिम राज्यपाल एवं केंद्रीय मंत्री के साथ गौरीगंज के राजगढ़ स्थित वृद्धाश्रम के निरीक्षण हेतु पहुंची। जहां पर बुजुर्गों से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना।

यहां पर भी केंद्रीय मंत्री वह अमेठी सांसद स्मृति ईरानी उनके साथ मौजूद रही। राजगढ़ से निकलकर वह जामो जाते समय रास्ते में पड़ने वाले प्राथमिक विद्यालय आनापुर गौरीगंज पर अपनी गाड़ी रुकवा दिया। महामहिम राज्यपाल ने प्राथमिक विद्यालय के बच्चों से उनका हालचाल पूछा और शिक्षा संबंधी जानकारियां ली। इसके बाद उनका काफिला जामो के कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय के लिए निकला। जहां पर विद्यालय के छात्राओं ने महामहिम को फूल देकर स्वागत किया महामहिम ने कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। वही साथ में विद्यालय पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्वलित किया और विद्यालय की छात्राओं को दीपावली पर मिठाई व पढ़ाई सामग्री के रूप में तोहफा देने की बात कही। सांसद महोदय ने अपने प्रतिनिधि विजय गुप्ता को दीपावली पर छात्राओं को तोहफा देने की बात कहीं। वहीं पर महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बालिका विद्यालय की छात्राओं को अपने हाथों से फल वितरित किया और उनसे विद्यालय संबंधी जानकारी ली। साथ ही महामहिम राज्यपाल ने छात्राओं को भगवान कृष्ण की मूर्ति भेंट में दिया। इसके बाद राज्यपाल महोदया का अगला कार्यक्रम पशु आश्रय स्थल केंद्र का था जहां पर उनको निरीक्षण करना था । लेकिन वह वहां पर नहीं गई और अधिकारी इंतजार करते रह गए। कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय से निकलकर वह सीधे मुंशीगंज गेस्ट हाउस के लिए निकल पड़ी। जहां पर उन्होंने लंच किया उसके बाद यहीं पर वह गैर सरकारी संगठनों, क्षय रोग संगठन,रेडक्रास सोसायटी तथा रोटरी क्लब के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ आधिकारिक बैठक किया। तत्पश्चात वह वहीं से हवाई मार्ग द्वारा लखनऊ के लिए निकल गई। इस प्रकार अमेठी सांसद तथा उत्तर प्रदेश के राज्यपाल का एक दिवसीय दौरा पूरा दौरा ही रहा क्योंकि इस बीच में इनके द्वारा कोई जन सभाएं अथवा जनता के लिए कोई कार्यक्रम नहीं था।

शाम को केंद्रीय मंत्री व अमेठी सांसद स्मृति ईरानी ने मीडिया से रूबरू होते हुए बताया कि- यह हमारा सौभाग्य था कि महामहिम राज्यपाल महोदया स्वयं अमेठी पधारी। वह सिर्फ शिक्षा के संस्थानों में नहीं बल्कि हमारे बच्चों से और माताओं से मिली स्वास्थ्य संस्था का निरीक्षण कर स्वयं डीएम और एसपी साहब को आदेश भी दिए। हम आशावादी हैं कि अनुभवी जो स्वयं प्रशासन चला चुकी हैं। वह राज्यपाल के रूप में हमारे प्रदेश को प्राप्त हुई हैं। उन्होंने अपने अनुभव को सभी अधिकारियों के साथ, विधायकों के साथ और हमारे साथ बांटा। हम इस बात का पूर्ण विश्वास रखते हैं कि आज जो मार्गदर्शन दिया और महिला स्वास्थ्य की दृष्टि से दिया है और किस कृषि उत्थान की दृष्टि से दिया है। उस मार्ग पर चलकर हम अमेठी में कुछ विशेष कार्यक्रम कर सकेंगे।