स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

16 शिक्षकों पर हुई सबसे बड़ी कार्रवाई, हुए बर्खास्त, पुलिस ने मामला दर्ज कर शुरू की कार्रवाई

Karishma Lalwani

Publish: Dec 09, 2019 15:11 PM | Updated: Dec 09, 2019 15:32 PM

Amethi

16 शिक्षकों को फर्जी प्रमाणपत्र दिखाकर नौकरी करने के नाम पर नौकरी करने के आरोप में बर्खास्त किया गया

अमेठी. जिले में फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया है। 16 शिक्षकों को फर्जी प्रमाणपत्र दिखाकर नौकरी करने के नाम पर नौकरी करने के आरोप में बर्खास्त किया गया है। इन शिक्षकों को अक्टूबर माह में ही बर्खास्त कर दिया गया था। स्पेशल टास्क फोर्स की जांच के बाद अब जिला बेसिक शिक्षा अधिकरी विनोद कुमार मिश्रा ने पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर इन शिक्षकों के खिलाफ प्रथम सूचना दर्ज करने की तहरीर दी है।

[MORE_ADVERTISE1]amethi[MORE_ADVERTISE2]

सहायक अध्यापक भर्ती में फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे नौकरी करने वालों में नयन कुमार की तैनाती बाजारशुकुल के एक विद्यालय में तैनाती हुई थी। इसके अलावा जिले के अखिलेश कुमार सिंह की तैनाती भादर के भदावा, सरोज कुमार भारती जामों के पूरे परमेश्वरी, अखिलेश कुमार यादव बाजारशुकुल के किसुनी, सोनू कुमार जगदीशपुर की रस्तामऊ, योगेंद्र कुमार सिंहपुर की रुकुनपुर, रामदेव की शुक्लापुर, शिव चरन भादर की सवनगी, धर्मेंद्र कुमार सिंहपुर की भीखीपुर, विनय कुमार तिवारी की जामों के राजामऊ भवानी गढ़, अशोक कुमार की बाजारशुकुल के घटपुरवा, प्रशांत शेखर की शुकुल बाजार के दक्खिनगांव क्यार, शैलेंद्र कुमार सिंह की सिंहपुर के रामपुर ढेलई, मुकेश कुमार जामों के कटारी प्रथम व शबीना खातून मुसाफिरखाना के पूरे परवानी में तैनाती थी। इन्हें बीते 29 अक्तूबर को बर्खास्त किया गया था। बीएसए की तहरीर पर पुलिस ने सभी के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

[MORE_ADVERTISE3]amethi