स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इस पार्टी के नेता की हत्या, लखनऊ से पहुंचे बड़े पार्टी नेता, जोरदार प्रदर्शन जारी, हत्या को लेकर आया नया ममला

Ruchi Sharma

Publish: Jul 13, 2019 11:20 AM | Updated: Jul 13, 2019 11:20 AM

Amethi

-पोस्टमार्टम के बाद शव मिलते ही मामला तूल पकड़ गया

-लखनऊ से यहां पहुंचे नेताओं ने शव को गांधी चौक पर रखकर प्रदर्शन किया

अमेठी. शुक्रवार सुबह अमेठी रेलवे स्टेशन के विराहिनपुर क्रॉसिंग के पास खेत में प्रसपा नेता रोहित अग्रहरि का शव पाया गया था। परिवारीजनों ने हत्या का आरोप लगाया था। पोस्टमार्टम के बाद शव मिलते ही मामला तूल पकड़ गया। लखनऊ से यहां पहुंचे नेताओं ने शव को गांधी चौक पर रखकर प्रदर्शन किया। इनकी मांग थी कि मृतक नेता के शव को दूसरे जिले से पुनः पोस्टमार्टम कराया जाए।

उल्लेखनीय हो कि कोतवाली अमेठी के ग्राम पंचायत सरवनपुर मोहल्ला हरदेव नगर निवासी रोहित अग्रहरि (27) पुत्र रामलाल अग्रहरि प्रगतिशील समाजवादी पार्टी युवा प्रदेश सचिव और अयोध्या मंडल प्रभारी मनोनीत हुए थे। शुक्रवार की सुबह रोहित का शव रेलवे स्टेशन के पास खेत में पाया गया था। स्थानीय लोगों की सूचना के बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा था। मृतक के बड़े भाई क्षेत्र पंचायत सदस्य राहुल अग्रहरि ने बताया कि रोहित गुरुवार शाम लखनऊ जाने के लिए घर से बताकर निकला था। रोहित प्रापर्टी डीलिंग का कार्य भी करता था। आशंका जताई जा रही है कि इसी में विवाद को लेकर उसकी हत्या की गई है।

उधर पोस्टमार्टम के बाद जब रोहित का शव परिजनों को मिला तब तक उसके पार्टी के लखनऊ के कई एक नेता अमेठी पहुंच चुके थे। पार्टी नेताओं और स्थानीय लोगों ने रात में शव को गांधी चौक पर रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। जिसे देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमर रज़ा ने कहा कि हमारे प्रदेश सचिव यूथ ब्रिगेड रोहित अग्रहरि की हत्या हुई है इसे जाएज तरीके से देखा जाए। कातिलों को पकड़ा जाए और पोस्टमार्टम रिपोर्ट जो आई है उसकी अन्य डिस्ट्रिक्ट में जांच कराई जाए। प्रशासन मदद नहीं कर रहा है, पुलिस का कहना है हमने अपना काम किया है। लेकिन परिजनों की मांग है पोस्टमार्टम फिर से किया जाए उसमें सारी चीजें क्लियर होकर आ जाएगी। वही पुलिस के उच्च अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर समझा बुझाकर मामले को शांत कराया है।