स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यूपी मंत्री ने कांग्रेस नेता संग पी चाय, बीजेपी कार्यकर्ताओं में उबाल, पद से हटाने की उठी मांग

Abhishek Gupta

Publish: Aug 17, 2019 18:11 PM | Updated: Aug 17, 2019 18:11 PM

Amethi

जिस अमेठी को पांच साल की कड़ी मशक्कत से संजोकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भगवामय बनाया, अब वहां योगी के मंत्री के कारण संगठन में उबाल आ गया है।

अमेठी. जिस अमेठी को पांच साल की कड़ी मशक्कत से संजोकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने भगवामय बनाया, अब वहां योगी (CM Yogi) के मंत्री के कारण संगठन में उबाल आ गया है। दरअसल प्रभारी मंत्री व यूपी के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहसिन रजा (Mohsin Raza) ने जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र (Jagdish Vidhan Sabha) में एक कांग्रेसी नेता के घर बैठकर चाय पी। इसकी फोटो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। मामले से बीजेपी के युवा कार्यकर्ता आक्रोषित हैं व मंत्री को हटाने की मांग भी कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- स्व. अटल बिहारी वाजपेयी को दी गई सबसे बड़ी श्रद्धांजलि, लखनऊ का सबसे मशहूर इलाके का बदला नाम

कार्यकर्ताओं ने लगाए आरोप-

आपको बता दें कि योगी सरकार के इकलौते मुस्लिम मंत्री मोहसिन रजा अमेठी के प्रभारी मंत्री हैं। हाल ही में जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र में एक कांग्रेसी नेता के घर पर उन्होंने चाय पी। जिसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई। फोटो फायरल होने के बाद बीजेपी युवा कार्यकर्ताओं में उबाल आ गया। सोशल मीडिया पर कार्यकर्ताओं ने लिखा है कि प्रभारी मंत्री जगदीशपुर बीजेपी कार्यकर्ताओं के घर ना जाकर, विपक्षी पार्टियों के कार्यकर्ताओं के घर जाकर चाय पी रहे हैं।

ये भी पढ़ें- भारी बारिश से यूपी में यहां आई बाढ़, कई ट्रेनें प्रभावित, इतनों की हुई मौत

BJP

चाटुकारों से सावधान-

कार्यकर्ताओं ने ये भी लिखा कि प्रभारी मंत्री मोहसिन रजा जी चाटुकारों से सावधान रहिये अभी समय है। एक कार्यकर्ता ने लिखा कि भाजपा विरोधियों के ऊपर मंत्री मेहरबान है, लेकिन कभी भी भाजपा के कार्यकर्ताओं के घर नहीं गये चाय पीने। जो व्यक्ति भाजपा का विरोध कर रहा है उसी के घर पर भाजपा से प्रभारी अमेठी मंत्री जी चाय की दावत कर रहे हैं। किसी गुनाह की सजा से इनकार नहीं पर कोई जगदीशपुर में दुर्व्यवहार करे मुझे ये स्वीकार नहीं। नाराज कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया के सहारे मुख्यमंत्री योगी से शिकायत की है।

ये भी पढ़ें- भाजपा से निष्कासित होने के बावजूद कुलदीप सेंगर को मिला बहुत बड़ा सम्मान

BJP

वहीं जब इस मामले पर मंत्री से उनका पक्ष जानने के लिए फोन पर बात करना चाहा गया तो उन्होंने फोन ही नहीं उठाया। वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी ने ऐसी किसी जानकारी होने की बात से इंकार किया।