स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मामूली विवाद में दो समुदाय के बीच झगड़ा, हिंदू-मुसलमान की बात कर जला दी बाइक

Karishma Lalwani

Publish: Aug 19, 2019 16:36 PM | Updated: Aug 19, 2019 16:36 PM

Amethi

- मुस्लिम युवकों का दूसरे गांव के पास हुआ एक्सीडेंट

- गलत तरह से बाइक चलाने का लगा आरोप

- हिंदू-मुस्लिम में हुआ विवाद

- दूसरे समुदाय के लोगों ने जला दी बाइक

अमेठी. जनपद में एक छोटे से एक्सीडेंट के मामले ने जाति के नाम पर तूल पकड़ लिया। अमेठी के चंडेरिया गांव के दो मुसलमान बाइक सवार युवकों का जनपद के दूसरे गांव हौपुर बुजुर्ग के पास वाली रोड पर पहुंचते ही एक्सीडेंट हो गया। हादसे की सूचना पाकर चंडेरिया गांव और खौपुर बुजुर्ग गांव के लोग पहुंचे। हादसे के गवाह बने दुकानदार पंकज सिंह ने बताया कि दोनों युवक गलत तरह से बाइक चला रहे थे, जिससे कि उनका एक्सीडेंट हुआ। इस बयान पर दोनों गांव के लोगों के बीच कहासुनी हुई और सामान्य सी बात पर विवाद बढ़ गया। गुस्से में आकर हौपुर बुजुर्ग गांव के लोगों ने चंडेरिया से आए लोगों की पांच बाइक को आग लगा दी। बता दें कि चंडेरिया से मुस्लिम और हौपुर बुजुर्ग से हिंदू समुदाय के लोग उपस्थित रहे।

उठी हिंदू-मुसलमान की बात

झगड़े में हिंसक झड़प हुई जिसमें चार लोग घायल हो गए। वहीं पांच बाइक भी जला दी गई। चंडेरिया गांव के ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ने बताया कि हादसे का शिकार हुए मुसलमान युवकों के साथ दूसरे गांव के लोग जबरन मारपीट कर रहे थे। साथ ही हिंदू-मुस्लिम की बात कह कर मुसलमान को मारने की बातें कर रहे थे। इसके बाद वहां पर जितनी गाड़ियां थीं, उन सब को जला दिया गया।

जान बचा कर भागा पीड़ित

मारपीट का शिकार हुए सरफराज खान ने बताया कि वे बाग में खेल रहे थे। तभी उनके गांव के एक युवक ने आकर हादसे की जानकारी दी। जानकारी मिलते ही वे उक्त जगह पर पीड़ित की मदद करने और उसकी बाइक वापस लेने गए। लेकिन जैसे ही वहां पहुंचकर उन्होंने गाड़ी उठाई, वहां मौजूद लोगों ने उन्हें मारना शुरू कर दिया। इस दौरान मारो मुसलमान की बात भी उछली। सरफराज अपनी जान बचा कर वहां से भागा, तो गांव के अन्य लोगों ने बाइक जला दी।

ये भी पढ़ें: एक्सपायरी डेट की दवा देकर सपा नेता की बहन का किया इलाज, दिखे विकलांगता के लक्षण