स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने किया अनिश्चित कालीन प्रदर्शन, प्रियंका गांधी से मुलाकात के बाद गई थी नौकरी

Karishma Lalwani

Publish: Jul 15, 2019 19:20 PM | Updated: Jul 16, 2019 18:22 PM

Amethi

आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के बैनर तले आंगनबाड़ी और कार्यकत्री अनिश्चित कालीन धरना किया

अमेठी. उत्तर प्रदेश के अमेठी में सोमवार को आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के बैनर तले आंगनबाड़ी और कार्यकत्री अनिश्चित कालीन धरना किया। वजह ये है कि बीते दिनों चुनाव आचार संहिता के दौरान आंगनबाड़ी जिलाध्यक्ष ने प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) से भेंट की थी। इसके बाद आंगनबाड़ी कर्मचारियों की नौकरी चली गई।

ये भी पढ़ें: चार लाख आंगनबाड़ी वर्कर्स को मानदेय बढ़ोत्तरी का तोहफा देने जा रही है योगी सरकार, देखें वीडियो

गौरतलब है कि जिलाधिकारी कार्यालय मे प्रदेशस्तरीय आगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने अनिश्चित कालीन धरना शुरू किया। आगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने प्रदेश महामंत्री आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ एवं जिलाध्यक्ष आशा बौद्ध की पुनः बहाली की मांग को लेकर ये धरना शुरू किया है। आशा बौद्ध ने बताया कि वे आंगनबाड़ी की समस्याओं को लेकर हर नेतागण से मिलती आई हैं। उन्होंने बताया कि 19 अप्रैल को प्रियंका वाड्रा अमेठी आई थीं। उनसे मुलाकात करते ही एक स्पष्टीकरण के बाद 25 अप्रैल को उनकी सेवा समाप्त कर दी गई। उन्होंने बताया की तीन नोटिस मिलती है उसका जवाब आता जाता है। लेकिन उन्होंने एक शासकीय कर्मचारी दिखाकर जो की न मेरी सेवा नियमावली है न कुछ है बस एक नेता के इशारे पर किया गया है।