स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ब्राजील के जंगलों में आग लगने की घटनाओं ने बढ़ाई चिंता, प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंचा

Mohit Saxena

Publish: Aug 21, 2019 10:19 AM | Updated: Aug 21, 2019 10:21 AM

America

  • स्पेस रिसर्च एजेेंसी ने सेटेलाइट डाटा में पाया साल 2018 में करीब 83 प्रतिशत घटनाएं बढ़ीं
  • ब्राजील के राष्ट्रपति जय बोल्सोनारो ने जताई चिंता

ब्रासीला। ब्राजील के अमेजन रेन फॉरेस्ट में इस साल रिकॉर्ड कई बार आग लगने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं। स्पेस रिसर्च एजेेंसी ने अपने सेटेलाइट डाटा में पाया साल 2018 में करीब 83 प्रतिशत घटनाओं में इजाफा हुआ है। इसके कारण यहां प्रदूषण खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है।

ट्रंप ने कश्मीर मसले को उलझा हुआ बताया, कहा-वह चाहेंगे की मध्यस्थता के जरिए समस्या का हल हो

ब्राजील के राष्ट्रपति जय बोल्सोनारो ने अपने वनों की कटाई के आंकड़ों के बीच एजेंसी के प्रमुख को निकाल दिया। सोमवार को साओ पाओलो शहर में आग ने विकराल रूप ले लिया। लगभग एक घंटे तक चलने वाले दिन के ब्लैकआउट,अमेजन और रोंडानिया के राज्यों में लगी आग से निकलने वाली तेज हवाओं ने 2,700 किमी क्षेत्र को प्रभावित किया।

संरक्षणवादियों ने बोल्सनारो को इसके लिए दोषी ठहराया है,उन्होंने कहा कि बोल्सोनारो लोगों और किसानों को भूमि खाली करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। वहीं 2013 के बाद से जनवरी और अगस्त के बीच आग लगने की घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है। इस साल भी कई बार जंगल की आग को देखा था। ये क्षेत्र काले धुएं से ढंके हुए हैं। बोल्सनारो ने नवीनतम आंकड़ों को खारिज करते हुए कहा कि इन घटनाओं का कारण डीफॉरेस्टेशन है। भूमि को साफ करने के लिए किसान आग का सहारा लेते हैं। इसके कारण अक्सर यहां पर आग लग जाती है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..