स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मध्य अमरीका में डेंगू का प्रकोप, इस साल 127,000 मामले दर्ज, 124 की मौत

Anil Kumar

Publish: Aug 15, 2019 11:50 AM | Updated: Aug 16, 2019 08:25 AM

America

  • इस साल आठ अगस्त तक मध्य अमरीका में डेंगू के 127,000 मामले सामने आए हैं
  • फिलीपींस में इस साल जनवरी से जुलाई तक डेंगू से मरने वालों की संख्या 622 हो गई है

संयुक्त राष्ट्र। बारिश के बाद जगह-जगह जमा हुए पानी के कारण डेंगू जैसे खतरनाक बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है। कई देशों में हाल के दिनों में डेंगू के कई मामले सामने आए हैं।

मध्य अमरीका में डेंगू के 127,000 मामले सामने आए हैं, जिसमें अभी तक 124 लोगों की मौत हो चुकी है। संयुक्त राष्ट्र के मानवीय मामलों के समन्वय कार्यालय (ओसीएचए) ने बुधवार को कहा कि मध्य अमरीका को लेकर अधिकारियों ने जानकारी दी है कि आठ अगस्त तक मच्छर जनित बीमारी, डेंगू से लगभग 127,000 मामलों में कम से कम 124 लोगों की मौत हुई।

डेंगू-चिकनगुनिया बचाव के लिए ये सावधानी बरतें गर्भवती महिलाएं

ओसीएचए ने कहा, इससे सबसे अधिक बच्चे और किशोर प्रभावित होते हैं। मध्य अमरीका में चलाए जा रहे अभियानों में संयुक्त राष्ट्र और मानवीय संगठन चिकित्सा आपूर्ति और उपकरणों में सरकार की मदद कर रहे हैं। इसमें कम्युनिटी वेक्टर कंट्रोल व निगरानी, डोर-टू-डोर जागरूकता अभियान और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के लिए प्रत्यक्ष तकनीकी सहायता करना आदि शामिल है।

डेंगू मच्छर

फिलीपींस और श्रीलंका में डेंगू का कहर

बता दें कि इससे पहले फिलीपींस में भी डेंगू से मरने वालों की खबर सामने आई थी। एक रिपोर्ट में बताया गया था कि 2019 में जनवरी से जुलाई तक डेंगू से मरने वालों की संख्या 622 हो गई है। डेंगू से मरने वालों की इतनी बड़ी संख्या को देखते हुए कहा गया है कि स्वास्थ्य विभाग ( DOH ) को राष्ट्रीय डेंगू महामारी घोषित करना चाहिए।

स्वास्थ्य सचिव फ्रांसिस्को ड्यूक III ने इस साल जनवरी से 20 जुलाई तक दर्ज की गई 622 मौतों और 146,062 मामलों का हवाला दिया। उन्होंने कहा था कि पिछले साल की समान अवधि में दर्ज मामलों की तुलना में 98 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

सर्वे में मिले डेंगू-मलेरिया के लार्वा, मकान मालिकों को कार्रवाई की नपा की चेतावनी

ड्यूक ने कहा था कि एजेंसी ने स्थानीय सरकारों को एक विशेष 'त्वरित प्रतिक्रिया कोष' का अधिकार देकर डेंगू के प्रकोप में सुधार करने की घोषणा की गई है।

आपको बता दें कि बीते दिनों श्रीलंका में भी डेंगू से मरने वालों की रिपोर्ट सामने आई थी, जिसमें बताया गया था कि इस साल जनवरी से जुलाई के बीच 47 लोगों की मौत हो गई, जबकि दो लाख लोग इससे प्रभावित हुए हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.