स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कचरे में पड़ा 1 किलो प्लास्टिक देने वाले को 'गार्बेज कैफे' में भरपेट खाना तथा आधा किलो पर मिलेगा नाश्ता

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Jul 19, 2019 21:26 PM | Updated: Jul 19, 2019 21:26 PM

Ambikapur

Unique story : काम के बदले जरूरतमंदों को मिलेगा भरपेट भोजन, महापौर व आयुक्त ने किया स्थल निरीक्षण, जल्द ही खुलेगा गार्बेज कैफे

अंबिकापुर. शहर में शुरू होने वाले गार्बेज कैफे हेतु स्थल निरीक्षण करने शुक्रवार को महापौर आयुक्त के साथ प्रतीक्षा बस स्टैंड के आश्रय घर पहुंचे। महापौर की मंशा यह है कि शहर में प्लास्टिक के कचरे इधर-उधर बिखरे रहते हैं। जो भी ऐसे 1 किलोग्राम प्लास्टि लाएगा, उसे इस कैफे में भरपेट भोजन तथा आधा किलो प्लास्टिक लाने वाले को नाश्ता दिया जाएगा।

 

यह भी पढ़ें : सामान्य सभा में जमकर हंगामा, भाजपा पार्षदों ने इस बात के लिए महापौर और कांग्रेस पार्षदों को दिखाया आइना

 

गरीबों व भीख मांगने वालों के लिए यह मददगार साबित होगा। इस दौरान उन्होंने बस स्टैंड की साफ-सफाई की भी जानकारी ली। उन्होंने दुकानों के बाहर सामान रखने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए सख्त लहजे में कहा कि शहर की जो पहचान है, उसी के अनुसार काम करें। इस दौरान उन्होंने सफाई प्रभारी को भी फटकार लगाते हुए चेतावनी दी।

 

Mayor and Nigam commissioner

सामान्य सभा की बैठक में महापौर डॉ. अजय तिर्की ने घोषणा की थी कि जो भी एक किलो प्लास्टिक लाएगा उसे भरपेट भोजन और जो आधा किलो प्लास्टिक लेकर आएगा, उसे नाश्ता दिया जाएगा। इसे अमली जामा पहनाने के लिए शुक्रवार को महापौर डॉ. अजय तिर्की,आयुक्त मनोज सिंह व सफाई प्रभारी अवधेश पाण्डेय प्रतीक्षा बस स्टैंड पहुंचे।

उन्होंने सबसे पहले वहां स्थित रैन बसेरा का निरीक्षण किया, वहां की साफ-सफाई व रूकने की व्यस्था देखने के बाद अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। इसके बाद उन्होंने बस स्टैंड के दुकानों का निरीक्षण भी किया।

 

यह भी पढ़ें : छोटे भाई की पत्नी ने पूछा- मेरी बेटी कहां है तो 4 माह के मासूम को गोद में उठा लाया जेठ, बोला- पहुंचा दिया हूं परलोक

 

इस दौरान प्रथम तल पर स्थित दो दुकान जो निगम के पास ही है, उसे गार्बेज कैफे के लिए उपयोग करने को कहा गया। महापौर ने जल्द ही सारी व्यवस्थाएं करने को कहा, ताकि समय पर गार्बेज कैफे को शुरू किया जा सके।


एसएलआरएम में जमा करना होगा प्लास्टिक
महापौर ने बताया कि जो भी प्लास्टिक एकत्रित किया जाएगा, उसे बस स्टैंड के समीप स्थित एसएलआरएम सेंटर में जमा कराना होगा। वहां से एक स्लीप मिलेगी, उसे दिखाकर लोग भोजन प्राप्त कर सकते हैं। भोजन की पूरी व्यवस्था बस स्टैंड में समूह द्वारा संचालित होटल द्वारा ही देखा जाएगा।

 

यह भी पढ़ें : 16 वर्षीय बेटी को घर पर अकेला छोड़कर गए थे माता-पिता, लौटे तो बेड पर थी इस हाल में, जब पता चली ये बात तो...


दुकानदारों को दी समझाइश
प्रतीक्षा बस स्टैंड के कई दुकानदारों द्वारा बाहर सामान रखकर दुकानों का संचालन किया जा रहा है। इसे लेकर महापौर ने नाराजगी व्यक्त की और स्पष्ट कहा कि शहर की पहचान यहां की सफाई की वजह से है। आप सभी दुकानों के अंदर सामान रखकर काम करें। उन्होंने दुकान संचालकों को ऐसा करने पर कार्रवाई किए जाने की भी चेतावनी दी।

 

यह भी पढ़ें : मेडिकल कॉलेज अस्पताल की स्टाफ नर्स ने काट लिया गला, डॉक्टर व सीनियरों पर लगाया ये आरोप


ठेला व गुमटी वालों को भी दी सलाह
महापौर ने प्रतीक्षा बस स्टैंड में साफ-सफाई की व्यवस्था देखने वाले प्रभारी को जमकर फटकार लगाते हुए कहा कि काम ठीक से नहीं देख सकते तो काम पर आना छोड़ दो। उन्होंने ठेला व गुमटी के बाहर बिखरी गंदगी को देख उन्हें भी फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि साफ-सफाई रखें, अन्यथा उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

 

सरगुजा जिले की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- ambikapur News