स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गिरवी रखी अंगूठी छुड़ाने युवक ने दोस्त के साथ मिलकर किया ऐसा काम कि खानी पड़ी जेल की हवा

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Jul 20, 2019 20:37 PM | Updated: Jul 20, 2019 20:37 PM

Ambikapur

Crime in Ambikapur : पहले 2 हजार रुपए का चेंज मांगा फिर लिफ्ट देने के बहाने युवक से लूट (Loot) लिए 10 हजार रुपए, एक आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार

अंबिकापुर. दो दिन पूर्व दिनहाड़े बाइक सवार 2 बदमाशों ने राह चलते एक युवक को दो हजार का चेंज मांगने के नाम पर रोका और उसे लिफ्ट देकर (Crime in Ambikapur) सुनसान स्थान पर ले जाकर 10 हजार रुपए लूट (Loot) लिए। घटना के अंजाम देने के बाद आरोपी वहां से फरार हो गए। युवक ने इसकी शिकायत मणिपुर चौकी में दर्ज कराई थी।

शिकायत के बाद पुलिस ने तत्काल सीसीटीवी फुटेज के आधार पर घटना में शामिल एक आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। दूसरा आरोपी अभी फरार है।

 

यह भी पढ़ें : भाजपा नेता के पुत्र ने 11वीं की छात्रा का किया अपहरण, दोस्त के घर रखकर 2 दिन तक किया दुष्कर्म, दोस्त की दीदी पहुंची तो...

 

युवक घर से लैपटॉप खरीदने बस से अंबिकापुर आया था। मुख्य आरोपी ने लूट (Crime in Ambikapur) के रुपए से मणप्पुरम गोल्ड लोन में गिरवी रखी अंगूठी छुड़ाई तथा दोस्त को 1 हजार रुपए उधार पटाने के लिए दिए। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है।


सरगुजा जिले के बतौली थाना क्षेत्र के ग्राम बीजापारा तरागी निवासी 21 वर्षीय शंकर राम पिता लक्ष्मणराम १८ जुलाई को अपने घर से 10 हजार रुपए लेकर लैपटॉप खरीदने अंबिकापुर आया था। दोपहर 1.30 बजे बस से खरसिया चौक पर उतर कर पैदल नए बस स्टैंड की ओर जा रहा था।

खरसिया चौक पेट्रोल पंप के पास पीछे से बाइक सवार दो युवक पहुंचे और शंकर को रोक कर दो हजार रुपए का चेंज मांगा। इस पर शंकर ने अपने पास 10 हजार रुपए होना बताया। इस दौरान दोनों बाइक सवार युवकों ने पूछा कि कहां जा रहे हो। वह बस स्टैंड की ओर जाना बताया।

 

यह भी पढ़ें : 4 बदमाशों ने बाइक सवार पर किया रॉड से हमला और लूट लिए 10 हजार, थाने पहुंचते ही हुआ बेहोश

 

बाइक सवार युवकों ने बताया कि हम लोग भी उसी तरफ जा रहे हैं चलो छोड़ देंगे। इस पर शंकर दोनों युवकों के साथ बाइक पर बैठ गया। इस दौरान दोनों आरोपी उसे भाथूपारा स्थित सूनसान स्थान पर ले गए और 10 हजार रुपए लूट कर फरार हो गए। शंकर ने इसकी शिकायत मणिपुर चौकी (Crime in Ambikapur) में दर्ज कराई थी। पुलिस अज्ञात के खिलाफ धारा 392, 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की तलाश में जुट गई थी।


सीसीटीवी फुटेज के अधार पर एक गिरफ्तार
मणिपुर चौकी प्रभारी प्रमोद यादव ने घटना की जानकारी एसपी को दी। एसपी ने तत्काल आरोपियों की पतासाजी हेतु निर्देश दिया। एडिशनल एसपी व सीएसपी के मार्गदर्शन में मणिपुर चौकी पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई। सीसीटीवी फुटेज व प्रार्थी द्वारा बताए गए हुलिए के आधार पर पुलिस ने 20 जुलाई को नए बस स्टैंड में एक युवक संदिग्ध रूप से घुमते हुए पाया गया।

 

यह भी पढ़ें : मेडिकल कॉलेज अस्पताल की स्टाफ नर्स ने काट लिया गला, डॉक्टर और सीनियरों पर लगाया ये आरोप

 

पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ की तो उसने जुर्म कबूल किया। पूछताछ के दौरान उसने अपना नाम पटपरिया निवासी 25 वर्षीय सोनू केडिया पिता अनिल केडिया बताया। उसने अपने सहयोगी नमनाकला निवासी निलेश तिवारी के साथ मिलकर घटना को अंजाम देना बताया, जो अभी फरार है। पुलिस ने सोनू को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।

 

यह भी पढ़ें : 16 वर्षीय बेटी को घर पर अकेला छोड़कर गए थे माता-पिता, लौटे तो बेड पर मिली इस हाल में, जब पता चली ये बात तो...


लूट की रकम से छुड़ाई गिरवी रखी अंगूठी
आरोपी सोनू केडिया ने बताया कि उसने मणप्पुरम गोल्ड लोन में उसने सोने की अंगूठी गिरवी रखी थी। लूट की रकम में से 5745 रुपए देकर उसने अपनी अंगूठी छुड़ाई है। 1 हजार रुपए अपने सहयोगी निलेश तिवारी को उधार पटाने के लिए देना बताया तथा 650 रुपए पुलिस ने बरामद किए। शेष रुपए खाने-पीने में खर्च कर दिए।

पुलिस ने आरोपी के पास से लूट की रकम में से 650 रुपए नकद, लूट में प्रयुक्त पैशन प्रो बाइक, एक नग सोने की अंगूठी जब्त की है। कार्रवाई में टीआई विनीत दुबे, चौकी प्रभारी प्रमोद यादव, विरेंद्र कुजूर, अथनस बखला, बृजेश राय, दिवाकर मिश्रा व राकेश शर्मा शामिल रहे।

 

सरगुजा जिले की क्राइम से संबंधित खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Crime in ambikapur