स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बलात्कार के बाद अंधेरे में छोड़कर भाग रहा था तो भतीजी बोली- मौसा, मुझे भी घर छोड़ दीजिए, किसी को कुछ नहीं बताऊंगी...

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Aug 18, 2019 18:45 PM | Updated: Aug 18, 2019 18:45 PM

Ambikapur

Chhattisgarh rape: 20 वर्षीय भतीजी को जंगल में ले जाकर किया बलात्कार, शर्मनाक वारदात को अंजाम देने से पहले डंडे से किया था सिर पर वार, बेहोशी की हालत में लूटी आबरु

अंबिकापुर. मौसा-भतीजी के रिश्ते को शर्मसार (Chhattisgarh rape) करने वाला मामला अंबिकापुर में हुआ। मौसी की तबियत खराब है कहकर वह भतीजी को बाइक से ले गया। इसके बाद शराब के नशे में उसे शार्टकट रास्ता है, कहकर जंगल में ले गया। यहां उसने उसके सिर पर डंडे से प्रहार कर दिया।

जब भतीजी गिरकर बेहोशी की हालत में आ गई तो वहसी मौसा से उससे बलात्कार (Niece raped) किया। वारदात के बाद रात में वह उसे जंगल में ही छोड़कर भाग रहा था तो भतीजी ने उसे रोकते हुए कहा कि मौसा मुझे भी घर तक छोड़ दीजिए, मैं इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताऊंगी। जब मौसा ने उसे उसके घर से कुछ दूर छोड़ा तो वह किसी तरह किराए के रूम तक पहुंची और भाई को पूरी बात बताई।


बलरामपुर जिले के वाड्रफनगर क्षेत्र अंतर्गत निवासी 20 वर्षीय एक युवती अपने भाई के साथ गांधीनगर में किराए के मकान में रहती है। भाई यहां मजदूरी करता है। 14 अगस्त की शाम करीब 5 बजे वह घर पर थी। इसी दौरान शहर के नमनाकला निवासी उसका मौसा वहां पहुंचा।

उसने युवती से कहा कि उसकी मौसी की तबियत खराब है। यह कहकर वह अपनी बाइक पर बैठाकर ले गया। वह युवती को अपने घर न ले जाकर किसी रिश्तेदार के घर ले गया। यहां उसने शराब का सेवन किया और फिर बाइक पर बैठाकर भगवानपुर शराब दुकान से लगे जंगल की ओर ले गया।

इस दौरान अंधेरा हो चुका था। उसने युवती से कहा कि शार्टकट रास्ते से घर ले जा रहा हूं। जंगल में पहुंचने के बाद उसने युवती को बाइक से उतरने कहा। वह जैसे ही उतरी, मौसा ने उसके सिर पर डंडे से जोरदार प्रहार कर दिया। इससे वह गिर गई और बेहोशी जैसी छा गई। सिर से खून भी निकलने लगा। इसी बीच मौसा ने उससे बलात्कार (Girl raped) किया।


जंगल में घायलावस्था में ही छोड़कर भाग रहा था आरोपी
घटना (Girl raped) को अंजाम देने के बाद मौसा उसे बेहोशी की हालत में छोड़कर भाग रहा था। इसी बीच युवती ने उसे रोक लिया और कहा कि वह ये बात किसी को नहीं बताएगी, बस वे उसे घर तक छोड़ दें। इसके बाद मौसा उसे साथ ले आया और गांधीनगर बनारस मार्ग पर स्थित जायका रेस्टोंरेंट के सामने उतारकर फरार हो गया।


भाई ने दर्ज कराई रिपोर्ट
युवती (Girl raped) वहां से किसी तरह अपने किराए के रूम पर पहुंची और भाई को पूरी बात बताई। भाई ने उसे घायल स्थिति में देखा तो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया। फिर भाई दूसरे दिन गांधीनगर थाने पहुंचा और मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई। मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। गांधीनगर टीआई के अनुसार घटनास्थल जयनगर थाने में आने के कारण डायरी जयनगर पुलिस को भेज दी गई है।

 

सरगुजा जिले की क्राइम से संबंधित खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Crime in Ambikapur