स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Video: केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका का कांग्रेस पर पलटवार, कहा- बजट बनाकर चुनाव में करनी थी बड़ी-बड़ी घोषणाएं, CM भूपेश के बारे में ये कहा

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Nov 06, 2019 19:55 PM | Updated: Nov 06, 2019 19:55 PM

Ambikapur

Chhattisgarh politics: धान बोनस का वितरण करने वाले राज्यों की धान केंद्र सरकार द्वारा नहीं खरीदे जाने के पत्रकारों के सवालों के दिए जवाब

अंबिकापुर. हैहय क्षत्रिय कल्चूरी समाज के सम्भागीय सम्मेलन में शामिल होने पहुंचीं केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह ने प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस द्वारा चुनाव के दौरान बड़ी-बड़ी घोषणाएं की गईं, लेकिन बजट की चिंता नहीं की।

जबकि केंद्र सरकार ने पहले से ही घोषणा की थी कि जो राज्य सरकार बोनस वितरित कर रही है, उसका चावल केंद्र सरकार नहीं खरीदेगी। यह तो डॉ. रमन सिंह के सरकार में पूर्व से ही तय था। झूठी घोषणा कर प्रदेश में कांग्रेस ने सरकार बनाई है। प्रधानमंत्री किसी के दबाव में नहीं आने वाले हैं।

पहले से केंद्र सरकार ने योजना बनाकर रखी थी, उसी के अनुसार काम कर रहे हैं। उन्होंने सीएम भूपेश के बारे में कहा कि वे 20 हजार कार्यकर्ता लेकर दिल्ली जाने वाले हैं, इस बात से प्रधानमंत्री दबाव में नहीं आएंगे।

[MORE_ADVERTISE1]

जायसवाल भवन में पत्रकारों ने जब केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका सिंह से पूछा कि मुख्यमंत्री ने सासंदों के साथ बैठक बुलाई थी, लेकिन भाजपा सांसदों की संख्या अधिक होने की वजह से सांसद बैठक में शामिल नहीं हुए, सरकार से किसी प्रकार की नाराजगी है? इस पर रेणुका सिंह ने कहा कि सरकार से किसी प्रकार की नाराजगी नहीं है।

सासंदों का पूर्व निर्धारित कार्यक्रम तय था, नाराजगी जैसी कोई बात नहीं है। प्रदेश सरकार से किसी प्रकार का कोई अनबन नहीं है। कांग्रेस ने झूठी घोषणा कर सरकार बनाई है। चुनाव से पूर्व कांग्रेस ने बड़ी-बड़ी घोषणाएं की थी, पहले उन्हें बजट की चिंता करनी थी, फिर घोषणाएं करनी थी।

यह तो पहले से तय था कि जो राज्य सरकार बोनस का वितरण करती है, उसका चावल केंद्र सरकार नहीं खरीदेगी। यह डॉ. रमन सिंह के सरकार के दौरान भी तय था। केंद्र सरकार रमन सिंह के शासन में भी केद्र सरकार द्वारा धान नहीं खरीदी नहीं की गई थी। केंद्र सरकार व राज्य सरकार का अपना बजट होता है।

उसके आधार पर ही योजनाएं तय की जानी चाहिए। केंद्र सरकार किसानों के हित की बात करने वाली सरकार है। केंद्र सरकार को किसानों की चिंता है। मैं प्रधानमंत्री के निर्णय के साथ हूं, लेकिन किसानों की चिंता मुझे भी है।


किसी के दबाव में नहीं आएंगे प्रधानमंत्री
रेणुका सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री किसी के दबाव में नहीं आने वाले हंै। उनके द्वारा जो भी योजनाएं बनाई जाती हैं, वह किसी एक प्रदेश के लिए नहीं, बल्कि सभी प्रदेशों के लिए बनाई जाती हैं। CM भूपेश बघेल 600 वाहनों में 20 हजार कार्यकर्ताओं के साथ केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने जा रहे हैं।

इसे लेकर उन्होंने कहा कि इस तरह का काम वहीं कर सकते हैं, लेकिन प्रधानमंत्री किसी के दबाव में नहीं आने वाले हंै। वे बहुत प्लान के साथ काम करने वाले प्रधानमंत्री हैं।


जनता का विश्वास सरकार के साथ नहीं
रेणुका सिंह ने कहा कि भले ही कांग्रेस दो उपचुनाव जीत चुकी है, लेकिन इसके बावजूद जनता कांग्रेस के साथ नहीं है। खुद कांग्रेस के लोग ही कह रहे हंै कि आज प्रदेश में चुनाव हो जाए तो कांग्रेस हार जाएगी और भाजपा सरकार बना लेगी। प्रदेश के कई कांग्रेसी कार्यकर्ता व पदाधिकारी भाजपा में शामिल होने के लिए पत्र लिख रहे हैं।


बंधक है डीन
चुतर्थ सत्र में मेडिकल कॉलेज जीरो ईयर घोषित हो गया था और अभी एमसीआई निरीक्षण में पहुंची हुई है। इसपर उन्होंने कहा कि यहां का डीन बंधक है। उसे खुलकर बोलना चाहिए। उसे पता है कि समन्वय बनाकर काम किया जाता है, लेकिन कभी भी उसने चर्चा नहीं की। इसके बावजूद उनके द्वारा हर संभव प्रयास किया जाएगा।


केंद्र सरकार ने कैम्पा मद से दिए हैं करोड़ों रुपए
पिछले 6 माह में हाथी के हमले में 21 लोगों की जान जा चुकी है। वन विभाग सिर्फ मुआवजा वितरित कर रहा है। इस पर रेणुका सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार कैम्पा मद से 5700 हजार करोड़ रुपए सरकार को दे चुकी है। इस राशि से हाथियों को रोकने के लिए सरकार काम कर सकती है। मुआवजा भी वितरित किया जा सकता है। तीनों जिले के डीएफओ व कलक्टर से इस संबंध में चर्चा भी करनी है।

सरगुजा जिले की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Surguja News

[MORE_ADVERTISE2]