स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

13 लाख में हुआ ट्रक का सौदा तो पत्नी के अकाउंट से ट्रांसफर कर दिए 1 लाख, फिर जो हुआ उससे रह गया हैरान

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Sep 20, 2019 19:45 PM | Updated: Sep 20, 2019 19:45 PM

Ambikapur

Chhattisgarh crime: पुलिस ने आरोपी को मध्य प्रदेश से किया गिरफ्तार, अंबिकापुर लाकर कर रही पूछताछ, 2 महीने से खोज रही थी पुलिस

अंबिकापुर. 11 माह पूर्व शहर के एक ट्रांसपोर्टर ने ट्रक खरीदने (Truck deal) के लिए एक व्यक्ति को 1 लाख रुपए आरटीजीएस किया था। इसके बाद से व्यक्ति ने न तो ट्रक दिलाया और न ही उसका एडवांस रुपए लौटा (Swindle) रहा था।

परेशान होकर ट्रांसपोर्टर ने जुलाई 2019 में इसकी शिकायत कोतवाली में दर्ज कराई थी। शिकायत पर पुलिस आरोपी सतना, एमपी निवासी मनोज विश्वकर्मा को शुक्रवार को गिरफ्तार कर अंबिकापुर ले आई। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। (Chhattisgarh crime)

यह भी पढ़े : शहर के नामी डॉक्टर से 5 लाख की ऑनलाइन ठगी, बैंक अधिकारी ने ऐसे फंसाया जाल में


शहर के मोमिनपुरा निवासी 53 वर्षीय मो. फहीम खान ट्रांसपोर्टिंग का काम करता है। ट्रांसपोर्टिंग के दौरान सतना एमपी निवासी मनोज विश्वकर्मा से पहले से पहचान थी। मनोज ने अक्टूबर 2018 को फोन कर फहीम को बताया कि एक ट्रक अच्छी कंडिशन में है। उसे 13 लाख में बेचना है।

फहीम ट्रक को खरीदने के लिए तैयार हो गया। मनोज ने कहा था कि अगर ट्रक खरीदना है तो एक लाख रुपए एडवांस खाते में दे दो। मनोज एडवांस की रकम डालने के लिए सतना के एचडीएफसी बैंक का खाता नंबर दिया था।

यह भी पढ़ें : आधी रात चाचा की नींद खुली तो भतीजी के कमरे से आ रही थी लड़के की आवाज, झांक कर देखा तो...

फहीम खान ने अपनी पत्नी के खाते से 1 लाख रुपए उसके दिए गए खाते नंबर में आरटीजीएस कर दिया। इसके बाद मनोज ने न तो उसे ट्रक दिलवाया और न ही एडवांस के रुपए वापस कर रहा था। वह बार-बार मामले को टालमटोल कर रहा था।


पुलिस ने किया गिरफ्तार
टालमटोल से परेशान होकर फहीम खाने ने जुलाई 2019 में इसकी शिकायत कोतवाली में दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ 420 का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश कर रही थी। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने आरोपी मनोज विश्वकर्मा को सतना मध्यप्रदेश से गिरफ्तार कर लाई है और उससे पूछताछ कर रही है।

सरगुजा जिले की क्राइम की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Ambikapur crime