स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घर के बाहर बैठी 14 वर्षीय बेटी के ऊपर अचानक भरभराकर गिर गई दीवार, फिर कुछ ही पल में पसर गया मातम

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Nov 05, 2019 19:41 PM | Updated: Nov 05, 2019 19:41 PM

Ambikapur

Ambikapur incident: ईंट की दीवार गिरने से उसके मलबे के नीचे दब गई नाबालिग बेटी, मलबा हटाकर निकाला गया बाहर, डॉक्टरों ने घोषित किया मृत

अंबिकापुर. घर के बाहर बैठी 14 वर्षीय किशोरी पर सोमवार की शाम अचानक ईंट की दीवार (Wall fell) भरभराकर गिर गई। इससे किशोरी मलबे के नीचे दबकर गंभीर रूप से जख्मी हो गई। आनन-फानन में उसे परिजनों द्वारा स्थानीय अस्पताल ले जाया गया।

यहां से रेफर किए जाने के बाद अंबिकापुर के एक प्राइवेट अस्पताल में लाया गया। यहां जांच पश्चात डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बेटी की मौत से माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। (Ambikapur incident)

ये भी पढ़ें: हृदयविदारक हादसा: मौत की दीवार के नीचे दब गया सो रहा परिवार, मां-बेटे की चली गई जान, पति गंभीर


सूरजपुर जिले के प्रेमनगर थाना क्षेत्र के ग्राम तारकेश्वरपुर निवासी सीताराम साहू की 14 वर्षीय पुत्री रिंकी साहू सोमवार की शाम को घर के बाहर दीवार के पास बैठी थी। इस दौरान अचानक ईंट की दीवार भरभराकर उसके ऊपर गिर (Wall fell on daughter) गई। इससे वह मलबे के नीचे दब गई।

हादसा देख उसके माता-पिता, परिजन व पड़ोस के लोग दौड़कर वहां पहुंचे और दीवार का मलबा हटाकर उसे बाहर निकाला। इस दौरान किशोरी गंभीर रूप से जख्मी हो गई थी। उसके सिर सहित शरीर के अन्य हिस्से में काफी चोटें आई थीं। फिर परिजन द्वारा तत्काल उसे स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया।

ये भी पढ़ें : सिर छिपाने आशियाना बना रहे थे पति-पत्नी, अचानक गिर गई दीवार और दब गई मासूम बेटी, पसर गया मातम

यहां प्राथमिक उपचार पश्चात उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया। फिर रात में ही परिजन उसे लेकर अंबिकापुर के एक निजी अस्पताल में पहुंचे। यहां जांच पश्चात डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।


परिजनों में पसरा मातम
डॉक्टरों ने बेटी को जैसे ही मृत घोषित किया, वहां मौजूद माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। वे बेटी के शव से लिपटकर बिलखते रहे। फिर पीएम पश्चात पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया।

सरगुजा संभाग की क्राइम की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Surguja Crime

[MORE_ADVERTISE1]