स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पश्चिम बंगाल के युवक पर भरोसा कर फंस गए 4 ज्वेलर्स संचालक, इस तरह से लगाई सबको चपत

Ram Prawesh Wishwakarma

Publish: Oct 16, 2019 19:41 PM | Updated: Oct 16, 2019 19:41 PM

Ambikapur

Ambikapur crime: ज्वेलर्स संचालक जब उससे मिलने पश्चिम बंगाल पहुंचे तो जवाब सुनकर लौटे बैरंग, थाने में दर्ज कराई रिपोर्ट

अंबिकापुर. जेवर बनाने के नाम पर कारीगर द्वारा दुकानदारों का 67.310 मिली ग्राम सोना लेकर फरार (Cheating) होने का मामला सामने आया है। पीडि़त दुकानदारों ने इसकी शिकायत कोतवाली में दर्ज कराई है। आरोपी बंगाल का रहने वाला है। वह अंबिकापुर में रहकर जेवर बनाने का काम करता था। (Ambikapur Crime)


पश्चिम बंगाल के मिदनापुर निवासी सुशांत दास उर्फ राहुल पिता राधेश्याम (Fraud) अंबिकापुर के एसबीआई मुख्य शाखा के पास रहकर जेवर बनाने का काम करता था। बिश्रामपुर निवासी लक्ष्मी ज्वेलर्स के संचालक महेंद्र सोनी ने 16 अगस्त 2019 को 25 ग्राम सोना जिसकी कीमत 97 हजार 500 रुपए थी, जेवर बनाने के लिए सुशांत को दिया था।

इसके बाद से वह सोना लेकर फरार हो गया। अन्य पीडि़त दुकानदार भी सामने आए हैं जिनका सोना लेकर आरोपी सुशांत दास फरार है।

इनमें लटोरी निवासी बद्री प्रसाद गुप्ता का भी 25 ग्राम सोना कीमत 97 हजार 500, सदर रोड निवासी स्वामी ज्वेलर्स के संचालक रंगराव भोसले का 11.950 मिली ग्राम सोना, कीमत 46 हजार 600 तथा सनावल निवासी आनंद सोनी का 5.360 मिली ग्राम सोना कीमत 20 हजार 900 रुपए शामिल है। चारों पीडि़तों का वह कुल 67.310 मिली ग्राम कीमत 2 लाख 62 हजार 500 का सोना लेकर भाग (Fraud) गया।


मिलने गए तो सामने आने से कर दिया इनकार
सभी दुकानदार जब सुशांत के भाई श्रीमत दास के साथ उसके गांव गए तो उसने मिलने से इनकार कर दिया। इसके बाद महेन्द्र प्रसाद सोनी ने इसकी शिकायत कोतवाली में दर्ज कराई है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 406 के तहत अपराध दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

अंबिकापुर की क्राइम की खबरें पढऩे के लिए क्लिक करें- Ambikapur Crime