स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सुरा के सहारे वोटरों को लुभा रहे हैं गांवों के भावी शासक!

Kailash Chand Sharma

Publish: Jan 17, 2020 02:21 AM | Updated: Jan 17, 2020 02:21 AM

Alwar

सुरा के सहारे वोटरों को लुभा रहे हैं गांवों के भावी शासक!


पुलिस और आबकारी अधिकारी गांवों में रख रहे विशेष निगरानी, कई गांवों में अवैध शराब बरामद
अलवर. गांवों की नई सरकार के गठन की तैयारी शुरू हो चुकी है। प्रत्याशियों ने अपना चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है। गांवों के भावी शासक वोटरों को रिझाने के लिए सुरा का पूरा सहारा ले रहे है। वोटरों को अपने पक्ष में करने के लिए कई प्रत्याशी शराब बांट रहे हैं। साथ ही शराब का स्टॉक भी कर रहे हैं।
पंचायत चुनाव में शराब बांटने और भंडारण को लेकर पुलिस और आबकारी विभाग सतर्क हो गया है। सभी थाना पुलिस और आबकारी थानों को पंचायत चुनाव में अवैध शराब की रोकथाम के लिए विशेष निर्देश दिए गए हैं। जिसके तहत पिछले कुछ दिनों से पुलिस और आबकारी निरोधक दल ग्रामीण इलाकों में कार्रवाई कर अवैध शराब जब्त कर रहा है। कई ग्रामीण इलाकों में पंचायत चुनाव के लिए ले जाई जा रही अवैध शराब की बड़ी खेप बरामद भी की जा चुकी है।
हरियाणा से शराब तस्करी : पंचायत चुनाव आते ही अवैध शराब माफिया भी सक्रिय हो गए हैं। हरियाणा से तस्करी के जरिए अलवर सहित राजस्थान के विभिन्न इलाकों में शराब पहुंचाई जा रही है। इसके अलावा गांवों में अवैध रूप से शराब बेचने वालों ने भी चुनाव के मद्देनजर अपने यहां अवैध शराब का स्टॉक कर लिया है।
लगातार पकड़ी जा रही अवैध शराब : आठ जनवरी को भिवाड़ी थाना पुलिस ने एक पिकअप पकड़ी, जिसमें १५५ पेटी हरियाणा की शराब भरी हुई थी। पुलिस ने पिकअप और अवैध शराब को जब्त कर चालक संतराम उर्फ संतू गुर्जर निवासी आलमनपुर-भिवाड़ी को गिरफ्तार किया। उक्त शराब पंचायत चुनाव के लिए खैरथल के किसी गांव में ले जाई जा रही थी। वहीं, आबकारी निरोधक दल ने पिछले दिनों पंचायत चुनाव के मद्देनजर कार्रवाई करते हुए करीब ३० केस बनाते हुए अवैध शराब की २०० से ज्यादा पेटी पकड़ी हैं। इसके अलावा हथकढ़ और स्प्रिट भी जब्त की गई है।
तस्करी रोकने के विशेष इंतजाम
&पंचायत चुनाव में अवैध शराब की तस्करी रोकने के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। रात्रि गश्त और दबिश कार्रवाई के लिए अलग-अलग टीमें गठित की गई हैं। साथ ही जिले के हरियाणा सीमावर्ती इलाकों में एक साथ सघन नाकेबंदी कराई जा रही है।
- ज्ञानप्रकाश मीणा, सहायक आबकारी अधिकारी, अलवर।
विशेष निर्देश दिए
&पंचायत चुनाव में अवैध शराब की तस्करी और बिक्री की रोकथाम के लिए पुलिस को विशेष निर्देश दिए गए हैं। सीमावर्ती इलाकों में नाकेबंदी कराई जा रही है। पुलिस शराब तस्करी और शराब की अवैध बिक्री के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है।
- एस. सेंगाथिर, पुलिस महानिरीक्षक, जयपुर रेंज।

[MORE_ADVERTISE1]