स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बेहतर औद्योगिक विकास के लिए साथ चलें अधिकारी-उद्यमी

Pradeep kumar yadav

Publish: Aug 22, 2019 17:38 PM | Updated: Aug 22, 2019 17:38 PM

Alwar

उद्योग मंत्री परसादी लाल मीना ने दिया समस्याओं के समाधान का आश्वासन

अलवर. उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा ने कहा कि बेहतर औद्योगिक विकास के लिए पुलिस, प्रशासनिक अधिकारी और उद्यमी समन्वय बना कर चलें और समय-समय पर बैठकें कर समस्याओं को सुलझाने का प्रयास करें।
वे बुधवार को नीमराणा उद्योग क्षेत्रों के दौरे के दौरान रीको कार्यालय सभागार में रीको एवं उद्योगों से जुड़े अधिकारियों और नीमराणा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के पदाधिकारियों व उद्यमियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में उद्योग मंत्री के सामने नीमराणा इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के अध्यक्ष निरंजन सिंघवी, महासचिव हरीश सांखला, उपाध्यक्ष केजी कौशिक व सोतानाला केसवाना उद्योग क्षेत्र संगठन के आशीष मलिक ने उद्योग क्षेत्र में व्याप्त गंदे पानी की समस्या से अवगत कराया और कहा कि ये पानी प्रतापसिंहपुरा नीमराणा गांवों से इंडस्ट्रीज नालों में आता है जिससे उन्हें परेशानी हैं। उद्योगो से हाइवे कनेक्टविटी की समस्या बताते हुए बताया कि हाइवे पर फ्लाईओवर दूर-दूर हैं और पहले जो कट थे वो भी बंद हो गए, जिससे उद्यमियोंंं को जापानी जोन या जापानी और इंडियन इंडस्ट्री जोन में आने जाने में दिक्कत होती है। हाइवे की सर्विस लेन क्षतिग्रस्त है और कीचड़ पानी भरा रहता है। उद्योग क्षेत्र में बस स्टैण्ड की कमी है। बैठने, छाया-पानी के अभाव में यात्री सड़क पर बसों का इंतजार करते हैं।

पुलिस गश्त बढ़ाई जाए
सुरक्षा के लिए पुलिस गश्त व स्टाफ नफरी बढ़ाई जाए। साथ ही बताया कि पहले यहां उद्योगों को गेल इंडिया से गैस सप्लाई मिल जाती थी जिसका संचालन अब दूसरे हाथों में चले जाने से जरूरत के मुताबिक गैस नहीं मिल पा रही है। इस समस्या से मशीनें व कारखाने बॉयलर बंद रहने से परेशानी झेलनी पड़ रही है। हाई मास्ट लाइट बंद पड़ी है। बैठक में ईपीआईपी जोन को जनरल औद्योगिक क्षेत्र बनाने, ईएसआई हॉस्पिटल खोलने, वाटर ट्रीट प्लांट निर्माण, नीमराणा में जिला उद्योग केंद्र खोलने, नगरपालिका बनाने, ट्यूबवेल बोरिंग के लिए सीजीडब्लूए परमिशन दिलाने,नीमराणा में एसटीपी बनाने,सरकारी कॉलेज खोलने आदि मांगे रखी गई।

नए निवेश के लिए सरकार उठा रही कदम
उद्योग मंत्री ने पत्रिका से बात करते हुए कहा कि उनकी सरकार उद्योग क्षेत्र के बेहतर विकास और नए निवेश के लिए उद्यमियों को लुभाने के लिए कई कदम उठा रही है। इसी क्रम में उद्यमियों से सीधे संवाद को लेकर उद्योग क्षेत्रों का दौरा कर कर रहे हंै और उद्यमियों को औद्योगिक विकास में आने वाली समस्याओं के समाधान और सुविधाओं के लिए कदम उठाए जा रहे हंै। मंत्री ने धीमी गति से हो रहे विकास पर घीलोठ और कोलीला जोगा में उद्योग लाने में तेजी दिखाने की बात कही।


प्रदूषण के सवाल से किया किनारा
उद्योग मंत्री से जब पत्रिका ने क्षेत्र में फैक्ट्रियों से निकल रहा गंदा पानी, धुआं, ठोस व तरल कचरे की समस्या को लेकर सवाल किया तो मंत्री हल की बात करने की बजाय बोले कहां है गंदा पानी और पॉल्यूशन। इस पर मंत्री को बताया गया कि वे स्वयं जाकर लिबर्टी चौक के पार्क और नाले देख लें, इस पर वे एकबारगी तो चुप हुए, लेकिन फिर बोले प्रदूषण की समस्या नहीं हो सकती क्योंकि प्रदूषण पर एनजीटी की निगरानी है। फिर उन्हें मौका देखने की बात कही तो बोले देख लेंगे और सवाल को टाल गए। इस दौरान मंत्री ने इंडियन जॉन ईपीआईपी उद्योग क्षेत्र हैवल्स इंडिया व अन्य इकाइयों का दौरान किया।