स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पपला गुर्जर के साथियों को लेकर उसके गांव खेरोली पहुंची राजस्थान पुलिस की 20 टीमें, पपला के साथियों ने किया बड़ा खुलासा

Lubhavan Joshi

Publish: Sep 23, 2019 10:33 AM | Updated: Sep 23, 2019 10:33 AM

Alwar

Rajasthan Police Search Papla Gujjar : राजस्थान पुलिस और एसओजी की टीम ने पपला गुर्जर के गांव में सर्च अभियान चलाया, वहीं पकड़े गए आरोपियों से भी पूछताछ की।

अलवर. Rajasthan Police Search Papla Gujjar : एसओजी ने बहरोड़ थाने पर अंधाधुंध फायरिंग कर कुख्यात ( Papla Gujjar ) पपला गुर्जर को छुड़ा ले जाने वाले 12 आरोपियों सहित कुल 13 बदमाशों का रविवार को जुलूस निकाला। अंत:वस्त्र और हाथों में हथकड़ी लगे बदमाशों को भारी पुलिस बल के साथ शाहजहांपुर थाने से पहले हरियाणा स्थित पपला गुर्जर के गांव खेरोली ले जाया गया।

यहां सभी बदमाशों को पपला गुर्जर के साथ फरार बिजली विभाग के सहायक लाइनमैन के घर भी लेकर पहुंचे। इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ तमाशबीन की तरह जुटी थी। गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में पता चला था कि बहरोड़ थाना पुलिस जब पपला को पकडकऱ ले गई थी। उसके बाद वारदात में शामिल सभी सदस्य खेरोली स्थित गैंग की व्यायामशाला (जिम) में एकत्र हुए थे।

पैसों से बात नहीं बने तो हमला कर छुड़ाएंगे

एसओजी सूत्रों के मुताबिक, गिरफ्तार सदस्यों ने बताया कि खेरोली व्यायामशाला में एकत्र होने के बाद तय किया गया कि पैसों की डिमांड पूरी कर पपला को पुलिस से छुड़ा लेंगे। लेकिन पैसों की बात नहीं बने तो हमला कर पपला को किसी भी तरह छुड़ाकर लाना है। तब सभी एक साथ वहां से रवाना होकर बहरोड़ थाने पर पहुंचे थे। एसओजी सभी बदमाशों को व्यायामशाला लेकर पहुंची। इसके बाद यहां से फिर बहरोड़ थाना पहुंचने के लिए रवाना हुए।

कौन कहां खड़ा था, पूछा

बहरोड़ थाने पर पहुंचने के बाद सभी बदमाशों से फायरिंग करने वाले दिन कौन कहां खड़ा था, इस संबंध में पूछताछ की गई। नक्शा मौका बनाया गया। बाजार में खड़े होकर निगरानी रखने वालों से उनकी जगह की तस्दीक करवाई गई।

पुलिस और एसओजी कमांडो ने यूं घुमाया

बहरोड़ थाने से करीब दो किलोमीटर पहले ही एसपी अमनदीप सिंह कपूर और एसओजी अधिकारी करण शर्मा के नेतृत्व में सभी बदमाशों को वाहनों से नीचे उतार लिया

पुलिस बल की निगरानी में सभी बदमाशों को बाजार में घुमाते हुए बहरोड़ थाने लेकर पहुंचे

बहरोड़ में यह देख लोग पपला गैंग के सदस्यों को अभद्र शब्द बोलने लगे

कई लोगों ने पुलिस के इस काम को बदमाशों के खिलाफ अच्छी सजा देना बताया।