स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पूर्वी राजस्थान में बारिश के बाद ठिठुरन बढ़ी, दिनभर छाए रहा कोहरा और बादल, कल ओलावृष्टि के आसार

Lubhavan Joshi

Publish: Dec 12, 2019 18:13 PM | Updated: Dec 12, 2019 18:13 PM

Alwar

Rain And Hail In East Rajasthan : पूर्वी राजस्थान में बारिश आने से तापमान में गिरावट आ गई। बारिश के कारण सर्दी बढ़ गई है।

अलवर. Rain And Hail In East Rajasthan : कश्मीर और हिमालयी इलाकों में बर्फबारी के बाद उत्तर भारत में ठिठुरन बढ़ गई है। गुरुवार शाम को अलवर सहित आस-पास के क्षेत्रों में तेज बारिश शुरु हो गई। इससे तापमान में गिरावट आई और सर्दी में बढ़ोतरी हो गई। गुरुवार को सुबह से ही जिलेभर में बादल छाए हुए थे, बादलों के कारण मौसम में बदलाव रहा। शाम को बादल बरस पड़े और बारिश शुरु हो गई। जिले के राठ क्षेत्र में अधिक बारिश हुई। यहां बहरोड़, मुंडावर, मांढन आदि क्षेत्रों में जोर की बारिश हुई। मौसम विभाग के अनुसार पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी और जम्मू कश्मीर पर बने पश्चिमी विक्षोभ और राजस्थान तथा इससे सटे भागों पर बने सर्कुलेशन के कारण मौसम ने करवट ली है। बारिश के कारण गुरुवार को जिले का न्यूनतम तापमान 9 डिग्री से नीचे चला गया। देर शाम चली गलनभरी हवाओं ने लोगों की कंपकपी छुड़ा दी।

मावठ और ओलावृष्टि के आसार

मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार और शनिवार को मावठ और कुछ इलाकों में ओलावृष्टि के आसार है। अलवर सहित प्रदेश के 11 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। शनिवार के बाद एक-दो दिन बादल छाए रहेंगे, इसके आसमान साफ होगा, जिससे ठिठुरन बढ़ेगी।

दिनभर नहीं हुए सूरज के दर्शन

शहर सहित जिलेभर में सुबह से बादल और कोहरा छाया रहा। सर्दी के कारण शहर वासी देर तक घरों में ही दुबके रहे। दिन चढ़ते बादल छाने लगे। बादल छाए रहने के कारण दिनभर सूरज के दर्शन नहीं हुए। सुबह स्कूली बच्चों को भी ठिठुरन में स्कूल जाना पड़ा। शाम के बाद लोगों को आलाव का सहारा लेना पड़ा। अचानक से सर्दी बढऩे से गर्म कपड़ों की बिक्री भी बढ़ेगी।

मावठ से किसानों को फायदा

मौसम विशेषज्ञों के अनुसार मावठ से किसानों की फसल को फायदा होगा। यह बारिश गेहूं, सरसों के लिए अृमत साबित होगी, लेकिन अगर भारी मात्रा में ओलावृष्टि होती है तो इससे फसलों को नुकसान होगा।

[MORE_ADVERTISE1]