स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पहलू खान प्रकरण में जांच करने बहरोड़ पहुंची एसआईटी की टीम, कब्जे में ली मामले की सारी फाइलें, घटना स्थल का भी किया मुआयना

Sujeet Kumar

Publish: Aug 22, 2019 11:08 AM | Updated: Aug 22, 2019 11:08 AM

Alwar

Pehlu Khan Case SIT Investigation : पहलू खान प्रकरणम में एसआईटी की टीम ने बहरोड़ पहुंचकर पहलू मामले की सारी फाइलें अपने कब्जे में ली।

अलवर/बहरोड़. पहलू खां प्रकरण में कोर्ट से आरोपियों के बरी होने के बाद गठित एसआईटी (विशेष जांच दल) बुधवार को बहरोड़ पहुंची और जहां पहलू की लिंचिंग की गई, वह मौका देखा।

टीम ने बहरोड़ थाने में पहलू खां प्रकरण की फाइल को खंगाला और उन बिंदुओं को चिन्हित किया जिनकी वजह से मुल्जिम अदालत से बरी हो गए। एसआईटी ने पहलू मॉब लिंचिंग मामले से जुड़ी तमाम फाइलों को अपने कब्जे में ले लिया है। एसआईटी ने भिवाड़ी के नए एसपी अमनदीप कपूर से भी इस मामले पर बहरोड थाने में चर्चा की।
अलवर के अपर जिला एवं सत्र न्यायालय संख्या-1 ने पहलू खां प्रकरण में 6 बालिग आरोपियों को बरी कर दिया था। न्यायालय ने अनुसंधान अधिकारियों की लापरवाही पर कठोर टिप्पणी भी की। कोर्ट के फैसले के बाद देशभर में बवाल मच गया। इसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पूरे मामले की फिर से जांच के लिए एसआईटी का गठन किया।

बुधवार को एसआईटी में शामिल डीआईजी नितिनदीप ब्लग्गन, सीआईडी सीबी के एसपी समीर कुमार सिंह, एएसपी समीर दुबे व अन्य अधिकारी बहरोड़ पहुंचे। थोड़ी देर बाद भिवाड़ी के नए पुलिस अधीक्षक अमनदीप सिंह कपूर भी बहरोड़ पहुंच गए। जहां एसआईटी अधिकारियों ने कपूर से जांच की खामियों पर चर्चा की।
उल्लेखनीय है कि एसआईटी मामले की जांच की खामियों व अधिकारियों की लापरवाही की जांच करेगी। एसआईटी जांच की निगरानी अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अपराध बीएल सोनी करेंगे।

घटनास्थल का मुआयना

एसआईटी ने बहरोड़ उद्योग क्षेत्र स्थित हाइवे पर वह स्थान देखा, जहां गायों से भरी गाड़ी रोकने व पहलू खां के साथ मारपीट हुई थी। बहरोड़ थाना प्रभारी व प्रकरण के केस ऑफिसर सुगन सिंह से शुरुआती जांच के साथ ही चालान पेश किए जाने तक के पहलुओं की जानकारी भी ली। एसआईटी ने जागूवास चौराहे का जायजा भी लिया। इस दौरान एसपी अमनदीप कपूर, नीमराणा के एएसपी डॉ.तेजपालसिंह सहित सभी अधिकारी मौजूद रहे। बाद में टीम जयपुर रवाना हो गई।

फाइलें खंगाली, वीडियो देखे

एसआईटी टीम ने बहरोड़ थाने पर मामले से जुड़ी फाइलों का अध्ययन कर दस्तावेजों की पड़ताल की। मौके के वायरल वीडियो देखे। मृतक की उपचार व पोस्टमार्टम रिपोर्ट के साथ ही घटना के दौरान तैनात पुलिस स्टाफ से मामले की जानकारी ली। इस बीच कुछ स्थानीय लोगों ने डीआईजी से मुलाकात कर उन्हें प्रकरण सम्बंधी जानकारी दी।

ये है पूरा मामला

एक अप्रेल 2017 को बहरोड़ हाइवे से पिकअप में गाय भरकर गुजर रहे हरियाणा के जयसिंहपुरा निवासी पहलू खां, उसके बेटों व अन्य को भीड़ ने पकड़ लिया था। गोतस्करी के शक में भीड़ ने उनके साथ मारपीट कर दी। मारपीट में गंभीर रूप से घायल पहलू खां की 4 अप्रेल को उपचार के दौरान बहरोड़ के निजी अस्पताल में मौत हो गई। बहरोड़ पुलिस ने पहलू खां की हत्या के अलावा गोतस्करी के 6 प्रकरण दर्ज किए थे। पहलू खां हत्या प्रकरण में पुलिस ने 9 आरोपी बनाए, जिनमें 6 बालिग व 3 नाबालिग थे। न्यायालय ने 14 अगस्त को पहलू खां प्रकरण में फैसला सुनाते हुए 6 बालिग आरोपियों को संदेह का लाभ देकर बरी कर दिया था।