स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नकबजनी की दो दर्जन से अधिक वारदात का खुलासा, तीन आदतन आरोपी गिरफ्तार

Shyam Sunder Sharma

Publish: Nov 19, 2019 02:09 AM | Updated: Nov 19, 2019 02:09 AM

Alwar

पुलिस नेआरोपियों से की गहनता से पूछताछ


अलवर राजगढ़ थाना पुलिस ने नकबजनी की दो दर्जन से अधिक वारदातों का खुलासा करते हुए तीन आदतन आरापियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने अन्य वारदातों में चोरी किए गए माल की बरामदगी के प्रयास कर रही है।
राजगढ़ पुलिस थाना के कोतवाल हरिसिंह ने बताया कि डोरोली गांव निवासी रामप्रसाद यादव ने राजगढ़ थाने में गत छब्बीस अक्टूबर को राजगढ़ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि डोरोली गांव स्थित उसकी परचूनी की दुकान का शटर तोडकऱ चोर परचूनी व अन्य सामान चोरी कर ले गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू की। जिला पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख अनिल की ओर से जिले में बढ़ रही चोरी व नकबजनी की वारदातों के खुलासे के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) बिशनाराम विश्नोई के निर्देशन में राजगढ़ पुलिस उपाधीक्षक अंजली अजीत जौरवाल के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया। जिसमें कोतवाल हरिसिंह धायल, उपनिरीक्षक जितेन्द्र कुमार यादव, लक्ष्मणगढ़ के उपनिरीक्षक अजीत सिंह, रैणी के उपनिरीक्षक राजपाल, साइक्लोन सैल के प्रभारी सज्जन सिंह सहित एक दर्जन अधिकारी -कर्मचारियों को शामिल किया गया। गठित टीम ने चोरी एवं नकबजनी की वारदातों के खुलासे के लिए संदिग्ध लोगों पर नजर रखी। पूर्व में चालान सुधार आरोपियों से गहनता से पूछताछ की गई तथा साइक्लोन सैल अलवर से तकनीकी सहायता प्राप्त कर राजगढ़ थाना क्षेत्र के खरखड़ी चांवड सिंह निवासी बिहारी उर्फ कैलाश पुत्र सुखपाल बैरवा, रैणी के रामपुरा रोड़ स्थित महादेवजी का पायसा निवासी मुरारी पुत्र टुण्डाराम जोगी तथा रैणी के रामपुरा रोड़ निवासी गुलाबचंद पुत्र सुआलाल जोगी के संदिग्ध पाए जाने पर पुलिस थाना लाकर गहनता से पूछताछ की गई। इस पर आरोपियों ने वारदात करना स्वीकार किया। पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।


छब्बीस स्थानों पर की चोरी व नकबजनी की वारदात

माचाड़ी कस्बे में परचूनी की दुकान की शटर तोडकऱ नकबजनी, माचाड़ी में टॉवर के पास दुकान के पीछे की शटर तोडकऱ सरसों के तेल से भरे पीपों की नकबजनी करने, माचाड़ी में घर का ताला तोडकऱ गैस-सिलेण्डर व अन्य सामान चोरी करने, पिनान मेें परचूनी की दुकान की शटर तोडकऱ सामान चोरी करने, रैणी क्षेत्र के धौराला गांव में मोबाइल की दुकान से चोरी करना इसके अलावा बांदीकुई क्षेत्र के बडिय़ाल, बस्सी जयपुर के बांसखोह, बसवा थाना क्षेत्र के गांव गुढा व कटला, कोलवा थाना क्षेत्र के कुंडल भांवता, टोंक से आगे सवाईमाधोपुर रोड़ पर बकरियों की चोरी करना, दौसा, अलवर, जयपुर ग्रामीण जिले सहित छब्बीस स्थानों पर चोरी व नकबजनी की वारदात आरोपियों की ओर से की जा चुकी है।


साइकिल का खेल दिखाकर करते थे रैकी

आरोपी मुरारी जोगी साइकिल का खेल दिखाता था। वह दिन में इस बहाने से रैकी कर लेता था तथा रात में अपने साथी बिहारी उर्फ कैलाश के साथ मिलकर अपनी कार से रात में रैकी किए गए स्थान दुकान, मकान, स्कूल आदि में नकबजनी की वारदात को अंजाम देते थे व चोरी किए हुए माल को गुलाब जोगी को बेच देते थे। गिरफ्तार आरोपी बिहारी उर्फ कैलाश बैरवा आदतन शातिर नकबजन है। जिसके खिलाफ जयपुर शहर, ग्रामीण दौसा, अलवर जिले में नकबजनी, चोरी, आम्र्स एक्ट, बलात्कार, अपहरण व मारपीट के 28 प्रकरण दर्ज है। मुरारी जोगी के विरूद्ध चोरी व बलात्कार का प्रकरण भी दर्ज है। गिरफ्तार आरोपियों से गांव डोरोली में परचून की दुकान से नकबजनी का माल बरामद कर किया गया है व अन्य वारदातों में चोरी किए गए माल की बरामदगी के प्रयास किए जा रहे है।

[MORE_ADVERTISE1]