स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

साल भर छात्रों की समस्याओं के लिए लड़ते रहे, अब हो गए निराश

Dharmendra Adlakha

Publish: Aug 20, 2019 22:22 PM | Updated: Aug 20, 2019 22:22 PM

Alwar

राजर्षि भर्तृहरि मत्स्य विश्वविद्यालय में बीते एक साल से कई छात्र नेता सक्रिय होकर विद्यार्थियों की समस्याओं को लेकर लड़ते रहे, जो अब चुनाव नहीं होने पर निराश होकर घर बैठ गए हैं।इस वर्ष स्नातकोत्तर प्रीवियस में अभी तक तो प्रवेश प्रक्रिया ही पूरी नहीं हो पाई है।

राजर्षि भर्तृहरि मत्स्य विश्वविद्यालय में बीते एक साल से कई छात्र नेता सक्रिय होकर विद्यार्थियों की समस्याओं को लेकर लड़ते रहे, जो अब चुनाव नहीं होने पर निराश होकर घर बैठ गए हैं।इस वर्ष स्नातकोत्तर प्रीवियस में अभी तक तो प्रवेश प्रक्रिया ही पूरी नहीं हो पाई है। वहीं फाइनल वर्ष में अस्थाई प्रवेश तक नहीं दिए गए हैं। इसके चलते यहां चुनाव प्रक्रिया शुरु नहीं हो पाई है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने सरकार को यहां चुनाव निर्धारित तिथि पर नहीं कराने के लिए पहले ही पत्र लिख दिया था।

मत्स्य विश्वविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया के बाद नए सिरे से चुनाव कराने की बात कही जा रही है। विश्वविद्यालय प्रशासन चुनाव की नई तिथि निर्धारित करने के लिए सरकार को पत्र लिखेगा लेकिन छात्र नेताओं को सरकार की बात पर भरोसा नहीं है। इस बारे में छात्र नेताओं का कहना है कि मत्स्य विश्वविद्यालय में इस बार छात्रसंघ चुनाव होने की संभावना नहीं है। यहां विद्यार्थियों की कम संख्या का बहाना बनाकर विश्वविद्यालय चुनावों को टाल सकता है। छात्र नेताओं का कहना है कि यदि विश्वविद्यालय को छात्रसंघ चुनाव नहीं करवाने थे तो यह स्थिति पहले ही स्पष्ट करनी चाहिए। इसको लेकर विद्यार्थियों में शुरु से ही असमंजस बरकरार था जो अंत तक बना रहा।