स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सोम पुष्य नक्षत्र पर नाच उठे बाजार

Subhash Raj

Publish: Oct 21, 2019 23:12 PM | Updated: Oct 21, 2019 23:12 PM

Alwar

अलवर. दीपावली से पहले सोमवार को पुष्य नक्षत्र वाले दिन बाजार में जमकर खरीददारी हुई। इस दिन जेवरात, दुपहिया व चौपहिया वाहनों, साडिय़ों और जेंटस वियर खूब बिके। सबसे अधिक बिक्री इलेक्ट्रॉनिक आइटमों की हुई।

मंगलवार को मंगल पुष्य नक्षत्र होने के कारण बाजार पूरी तरह से खुला रहेगा। त्योहारी सीजन को देखते हुए व्यापारी दुकानें खोलेंगे। व्यापार संघ से जुडे व्यापारियों ने बताया कि इस बार दो दिन का पुष्य नक्षत्र होने से बाजार मंगलवार को भी खुला रहेगा। जिससे लोग शुभ मुहूर्त में खरीददारी कर सकें। पुक्ष्य नक्षत्र के कारण लोगों ने पहले ही दुपहिया वाहन बुक करा लिए थे। इस दिन अलवर शहर में करीब 500 वाहनों की बिक्री हुई। ऑटोमोबाइल व्यापारी मुकेश मित्तल ने बताया कि पुष्य नक्षत्र पर सोमवार को दुपहिया वाहनों की अच्छी खासी बिक्री रही। इससे अधिक बिक्री धनतेरस को होने की संभावना है। पुष्य नक्षत्र के दूसरे दिन भी वाहनों की बिक्री होगी। एक ही दिन में शहर में 150 कार की सेल हुई। जबकि 350 के लगभग दोपहिया वाहन बिके। अलवर शहर में इन वाहनों की अधिक बिक्री धनतेरस को होगी।
इलेक्ट्रॉनिक्स व्यापारी विपुल खुराना के अनुसार इस बार पुष्य नक्षत्र पर बुकिंग खूब हो रही है। पहले ही दिन करीब 80 लाख की बिक्री हुई है। मंगलवार को लोग नया सामान नहीं लेते हैं लेकिन इस दिन पुष्य नक्षत्र होने से खरीददारी होने की उम्मीद है। धनतेरस की बुकिंग हो चुकी हैं। इस वर्ष दीवाली पर एलईडी और वाशिंग मशीन खूब बिक रही है। फ्रिज डबल डोर वाले सेल हो रहे हैं। कम्पनियों ने आकर्षक फाइनेंस की सुविधा दी है कि आप 2 या 3 हजार रुपए देकर तीन साल की किश्तों में एक लाख रुपए का टीवी ले जा सकते हैं। यह इतनी कम किश्तों में होगा कि आपको पता भी नहीं लगेगा। इससे बाजार में व्यापार ऊपर उठा है।
रेडिमेड व्यापारी राजकुमार कोरजानी के अनुसार पुष्य नक्षत्र पर अधिक बिक्री रेडिमेड गारमेंटस की होती है। लेकिन इस बार अहोई अष्टमी होने से महिलाएं बाजार में नहीं आई। अब मंगलवार को अधिक बिक्री की उम्मीद है। धनतेरस व दीपावली पर्व की खरीददारी तेज हो गई है। पुष्य नक्षत्र पर पहले दिन करीब 40 लाख की सेल हुई है जिसके आगामी दिनों में और बढऩे की संभावना है। दीपोत्सव के लिए लोग नई ड्रेस दो दिन पहले तक खरीद लेते हैं जबकि बड़ी दीवाली के दिन इसकी बिक्री कम होती है।
सर्राफा व्यापारी सत्यनारायण खंडेलवाल के मुताबिक सोने के भाव तेज होने के बावजूद बाजार में सोने के जेवरातों की बिक्री खूब हुई। सोमवार को पुष्य नक्षत्र शाम को शुरू हुआ था। इसलिए करीब 1 करोड तक की सेल हुई। इस बार महिलाओं के कम वजन के कान के टॉप्स, चांदी के लक्ष्मी गणेश और सिक्कों की बिक्री अधिक हुई। चांदी के सिक्के उपहार में देने के लिए भी खूब पसंद किए जा रहे हैं। शादी के लिए भी गहनों की खरीददारी हुई।
संयुक्त व्यापार महासंघ के अध्यक्ष राजकुमार गोयल ने बताया कि दीपोत्सव से पहले सोमवार को महिलाओं ने साडिय़ां खूब खरीदी। साडिय़ों की कीमत पहले से अधिक होने के बावजूद इनकी बिक्री में बढ़ोतरी हुई है। अलवर शहर में करीब 8 लाख रुपए की साडिय़ों की बिक्री हुई। पुष्य नक्षत्र पर इस बार अच्छी खरीददारी हो रही है। एक ही दिन में करोड़ों का कारोबार हो रहा है जिससे व्यापारी उत्साहित हैं। इस दिन कपड़े, जेवरात और सजावट के सामान की बिक्री अधिक हो रही है।