स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

छुट्टी का मजा, 400 के सामने मुश्किल

Dharmendra Yadav

Publish: Aug 23, 2019 19:28 PM | Updated: Aug 23, 2019 19:28 PM

Alwar

driving licence online 400 के लाइसेंस अटके आरटीओ कार्यालय में पहुंच गए आवेदक, पता चला अवकाश होने से कार्यालय बन्द है

अलवर.

driving licence online जन्माष्टमी की छुट्टी अचानक घोषित होने से शुक्रवार को कइयों की नौकरी के आवेदनों पर संकट आ गया है। इस दिन आरटीओ कार्यालय में करीब 400 आवेदकों के लर्निंग व स्थाई लाइसेंस बनवाने की तारीख थी। जिनमें से किसी का लाइसेंस नहीं बन सका।

जन्माष्टमी के का अवकाश अचानक 23 अगस्त को घोषित होने से लाइसेंस बनवाने वाले आवेदकों को निराश होकर लौटना पड़ गया। काफी आवेदकों को कार्यालय में पहुंचने के बाद तो कुछ को एजेण्टों से छुट्टी होने का पता चला। इस अवकाश का सबसे बड़ा खमियाजा तो इन 400 लाइसेंस वाले आवेदकों को भुगतना पड़ेगा। जो अब उनके लाइसेंस एक माह बाद ही बनेंगे। जिन आवेदकों को लाइसेंस की प्रक्रिया के लिए शुक्रवार को बुलाया गया था अब आगामी स्लोट में ही नम्बर आ सकेगा। जिसमें करीब एक माह का समय लगने की संभावना है। जिसके कारण अभ्यर्थियों का कहना है कि दिल्ली पुलिस भर्ती में लाइसेंस की जरूरत है। एक माह विलम्ब होने से तो उनके आवेदन नहीं भरे जा सकेंगे।

ये है प्रक्रिया लाइसेंस बनवाने की

पहले लर्निंग लाइसेंस बनता है। जिसके लिए किसी भी ई-मित्र से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन के साथ आवश्यक दस्तावे व शुल्क रसीद सलंग्न होती है। ओवदन से ही आरटीओ कार्यालय आने की तारीख मिलती है। जो करीब आगामी एक माह बाद की होती है। तय तारीख को आने पर फोटो व टेस्ट होता है। फिर कहीं से भी लर्निंग लाइसेंस की कॉपी ले सकते हैं। स्थाई लाइसेंस के लिए एक माह बाद आवेदन होता है। ओवदन के जरिए ट्रायल की तारीख मिलती है। ट्रायल के बाद सीधे डाक से लाईसेंस पहुंचने लगा है। इस तरह लर्निंग व स्थाई लाइसेंस वाले करीब 400 आवेदकों को 23 अगस्त की तारीख मिली हुई थी। अचानक अवकाश से उनके लाइसेंस अटक गए हैं।