स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पटवारी बहू ने वृद्ध सास-ससुर को चप्पलों से पीटा, दादा-दादी को बचाता रहा पोता, लेकिन नहीं मानी कलयुगी महिला, वीडियो वायरल

Sujeet Kumar

Publish: Aug 21, 2019 10:32 AM | Updated: Aug 21, 2019 10:32 AM

Alwar

एक महिला है, पेशे से पटवारी है, लेकिन उसने रिश्तों को शर्मसार करते हुए सास-ससुर की पिटाई कर दी।

अलवर. रिश्तों को शर्मसार करता एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। पटवारी बहू ने अपनी वृद्ध सास और ससुर को चप्पल व थप्पड़ों से पीटा, जिसका वीडियो भी वायरल हो रहा है। घटना के सम्बन्ध में पीडि़त ससुर ने अपनी पुत्रवधू के खिलाफ अलवर के शिवाजी पार्क थाने में मारपीट का मामला दर्ज कराया है।

जानकारी के अनुसार स्कीम-10ए निवासी एक बुजुर्ग ने सोमवार को शिवाजी पार्क थाने में मामला दर्ज कराया कि उनका पुत्र दिल्ली में सरकारी अध्यापक है और उनकी पुत्रवधू हाजीपुर डडीकर में हलका पटवारी है। नौकरी के चलते उनका पुत्र दिल्ली रहता है और पुत्रवधू से कलह के चलते वह अपना स्कीम-10बी स्थित मकान छोडकऱ पिछले चार माह से स्कीम-10ए में किराये के मकान में रह रहे हैं। उनकी पुत्री कर्मचारी कॉलोनी के समीप स्थित रॉयल सोसायटी के फ्लैट में रहती है। नवासे की तबीयत खराब होने पर वह और उनकी पत्नी रविवार रात अपनी पुत्री के घर गए थे। सोमवार सुबह वह और उनकी पत्नी शिव मंदिर होकर पुत्री के घर लौट रहे थे। इसी दौरान उनकी पुत्रवधू अपने सात वर्षीय बेटे के साथ स्कूटी पर सवार होकर कर्मचारी कॉलोनी स्थित अपने मायके से लौट रही थी। रास्ते में उन्हें देखकर गाली-गलौज करने लगी। वह अनसुना कर सोसायटी के अंदर आ गए। पुत्रवधू उनके पीछे आ गई और स्कूटी खड़ी कर सास और ससुर के साथ चप्पल व थप्पड़ों से मारपीट शुरू कर दी। ये पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरा में कैद हो गई।

उधर, शिवाजी पार्क थानाधिकारी प्रेम बहादुर सिंह का कहना है कि स्कीम-10 निवासी बुजुर्ग ने अपनी पुत्रवधू के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराया है। मारपीट में वह और उनकी पत्नी को चोटें भी आई हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

दादा-दादी को बचाता रहा पोता

घटना के वीडियो में सात वर्षीय बालक भी आ रहा है, जो कि पुत्रवधू का बेटा है। जब पुत्रवधू अपने सास-ससुर को चप्पल व थप्पड़ों से पीट रही थी तो यह बालक अपनी मां को दादा-दादी से मारपीट करने से बार-बार रोक रहा था। सोसायटी का गार्ड भी बार-बार महिला को रोकता रहा, लेकिन वह मारपीट करती जा रही थी।