स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अन्य आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी पर फोकस

Pradeep kumar yadav

Publish: Sep 22, 2019 02:09 AM | Updated: Sep 22, 2019 02:09 AM

Alwar

नीमराणा में पुलिस अधिकारियों की उच्चस्तरीय बैठक

 

अलवर/नीमराणा. बहरोड़ पुलिस थाने पर गत 6 सितम्बर को सुबह हरियाणा के बदमाशों की ओर से थाने के भीतर घुस कर एके 47 राइफल से फायरिंग कर थाने की हवालात से हरियाणा के मोस्टवांटेड इनामी अपराधी विक्रम उर्फ पपला गुर्जर को भगा ले गए थे। फरार पपला की जल्दी गिरफ्तार को लेकर एटीएस एवं एसओजी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अनिल पालीवाल शनिवार फिर नीमराणा पहुंचे। यहां उन्होंने रीको औद्योगिक क्षेत्र स्थित रीको कार्यालय सभागार में अलवर, भिवाड़ी, कोटपूतली जयपुर ग्रामीण, झुंझुनंू जिला पुलिस अधीक्षकों सहित अन्य अधिकारियों के साथ हरियाणा सीमावर्ती पुलिस थानों के थानाधिकारियों और एटीएस एसओजी पुलिस कर्मियों की क्राइम मीटिंग ली। बैठक में जयपुर रेंज आईजी एस सैंथागिर, भिवाड़ी एसपी अमनदीप कपूर, अलवर, झुंझुनूं, जयपुर ग्रामीण क्षेत्रों के एसपी व एएसपी आदि पुलिस अधिकारी शामिल हुए। बैठक में सभी संगीन अपराधों में फरार अपराधियों को पकडऩे व अब तक बहरोड़ प्रकरण में फरार विक्रम उर्फ पपला गुर्जर व उसको भगाने व थाने में फायरिंग के पुलिस पकड़ से बाहर शेष आरोपी सहयोगियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की योजना के साथ अब तक की कार्रवाई की समीक्षा और आगामी रणनीति तय की गई। एसओजी के प्रमुख अनिल पालीवाल ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि बहरोड पुलिस थाने पर हुई फायरिंग मामले में अभी तक18 लोग गिरफ्तार हो चुके है। गैंगेस्टर पपला को गिरफ्तार करने के लिए टीमें लगातार दबिश दे रही है। बैठक में पपला मामले में वांछित अपराधियों को पकडऩे व नए बिंदु जो अभी तक कवर नहीं हो पाए थे उनको लेकर चर्चा की गई। वही जो वांटेड अपराधी फरार चल रहे है उनको पकडऩे के लिए विस्तृत चर्चा की गई। पपला मामले में एसओजी, एटीएस व ईआरटी की टीमों को कहां तक सफलता मिली है उसका फीडबैक लिया गया। पत्रकारों ने जब पपला के नेपाल में छुपे होने की बात पूछी तो एसओजी अनिल पालीवाल ने कहा कि पपला को पकडऩे के लिए सभी एजेंसियों का सहारा लिया जा रहा है।