स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अलवर में कानून का डर समाप्त! नशे में धुत युवक ने गार्ड पर जीप चढ़ाने का प्रयास किया, पुलिस ने चार दिन बाद दर्ज की रिपोर्ट

Lubhavan Joshi

Publish: Sep 18, 2019 11:25 AM | Updated: Sep 18, 2019 11:25 AM

Alwar

अलवर में लोगों में कानून का डर समाप्त होता जा रहा है, अब एक ऐसा वीडियो सामने आया है, जिसमें एक युवक गार्ड को जीप से टक्कर मारने का प्रयास कर रहा है।

अलवर. शहर के मनुमार्ग स्थित एक मॉल के बाहर पार्र्किंग को लेकर कहासुनी होने पर नशे में धुत दो युवकों ने सिक्योरिटी गार्ड पर जीप चढ़ाने का प्रयास किया। घटना की लिखित शिकायत देने पर भी कोतवाली पुलिस मामले को चार दिन तक दबाकर बैठी रही। घटना के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मंगलवार शाम को पुलिस ने घटना की रिपोर्ट दर्ज की।

मनुमार्ग स्थित कैपिटल गैलेरिया मॉल के सामने 13 सितम्बर की रात करीब 8 बजे एक जीप आकर रुकी। जिसमें दो युवक सवार थे, जोकि नशे में धुत थे। युवकों ने जीप को मॉल के सामने खड़ी कर दी। गार्ड ने उन्हें जीप को साइड में या फिर मॉल के बेसमेंट पार्र्किंग में खड़ी करने की बात कही। दोनों युवक गाली-गलौज करते हुए गार्ड को देख लेने की धमकी देकर जीप स्टार्ट कर चल दिए। गार्ड अपने काम में लग गया। कुछ ही देर में दोनों युवक जीप को वापस घुमाकर लाए और पार्र्किंग में खड़े दुपहिया वाहनों को टक्कर मारते हुए गार्ड को जीप चढ़ाकर जान से मारने का प्रयास किया, लेकिन गार्ड जीप के सामने से हट गया। जिससे गार्ड को चोटें भी आई। युवकों ने जीप को फिर बैक कर तेजी से टक्कर मारी। जिससे बाहर खड़े गार्ड और लोगों में अफरा-तफरी और दहशत फैल गई। पुलिस ने घटना की रिपोर्ट मंगलवार शाम को दर्ज की।

मॉल के सुरक्षा अधिकारी रामेश्वर दयाल का कहना है कि इस घटना की लिखित रिपोर्ट 14 सितम्बर को उनकी आरे से शहर कोतवाली थाने में दी गई, लेकिन पुलिस ने घटना की रिपोर्ट दर्ज नहीं की। पुलिस उन्हें बार-बार चक्कर कटाती रही। चार दिन बाद 17 सितम्बर की शाम को पुलिस ने घटना की रिपोर्ट दर्ज की।

दर्ज करने से मना किया था

उधर, कार्यवाहक कोतवाल किशनलाल यादव का कहना है कि मॉल के सुरक्षा अधिकारी ने घटना की लिखित रिपोर्ट 14 सितम्बर को थाने में दी थी, लेकिन दर्ज करने से मना कर दिया था। बाद में उनका आरोपी पक्ष से राजीनामा भी हो गया। मंगलवार शाम को मॉल के सुरक्षा अधिकारी रामेश्वर दयाल ने रिपोर्ट दी। जिसके आधार पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।