स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

alwar Pehlu khan lynching case news पहलू खां हत्या प्रकरण में सबकी जुबां पर एक ही सवाल- फैसला आया क्या?

Prem Pathak

Publish: Aug 14, 2019 17:11 PM | Updated: Aug 15, 2019 12:33 PM

Alwar

 

बहुचर्चित alwar pahloo khan murder case news पहलू खां हत्या प्रकरण में बुधवार को न्यायालय की ओर से फैसला सुनाने की संभावना के चलते सुबह से ही लोगों में फैसले को लेकर उत्सुकता रही। इस मामले में अपर जिला एवं सत्र न्यायालय (संख्या-1) अलवर की न्यायाधीश सरिता स्वामी ने फैसले के लिए 14 अगस्त की तारीख पेशी निर्धारित की हुई है।

 

अलवर. बहुचर्चित alwar pahloo khan murder case news पहलू खां हत्या प्रकरण में बुधवार को न्यायालय की ओर से फैसला सुनाने की संभावना के चलते सुबह से ही लोगों में फैसले को लेकर उत्सुकता रही। इस मामले में अपर जिला एवं सत्र न्यायालय (संख्या-1) अलवर की न्यायाधीश सरिता स्वामी ने फैसले के लिए 14 अगस्त की तारीख पेशी निर्धारित की हुई है।
सुबह न्यायालय के खुलते ही लोगों का वहां पहुंचना शुरू हो गया, संभवत: देश में मॉब लिचिंग मामले में न्यायालय का पहला फैसला होने के कारण लोगों की फैसले को लेकर उत्सुकता ज्यादा रही। लोग सुबह से ही कोर्ट परिसर पहुंच फैसले के बारे में जानकारी लेते दिखाई दिए। दोपहर में यहां बड़ी संख्या में लोग पहुंच चुके थे। न्यायालय परिसर में भीड़ बढ़ती देख प्रशासन ने कोर्ट के बाहर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया। बड़ी संख्या में मीडिया व अन्य लोग भी वहां मौजूद रहे। दोपहर बाद विभिन्न संगठनों के लोग भी वहां पहुंच गए। लोगों की भीड़ बढ़ती देख प्रशासन को न्यायालय परिसर के बाहर वज्र वाहन तैनात करना पड़ा।

alwar pahloo khan murder case news लोगों की जुबान पर एक ही सवाल, फैसला आया क्या?

न्यायालय परिसर पहुंचे लोगों की जुबान पर दिन भर एक ही सवाल तैरता रहा कि पहलू खां हत्या मामले में फैसला आया क्या? हालांकि मामले में न्यायाधीश ने शाम पांच बजे तक फैसला नहीं सुनाया। इसी तरह अलवर शहर, बहरोड़ सहित अन्य क्षेत्रों में भी लोगों में फैसले को लेकर उत्सुकता रही।

यह था मामला

अपर लोक अभियोजक योगेन्द्र सिंह खटाणा ने बताया कि 1 अप्रेल 2017 को पिकअप में गोवंश भरकर बहरोड़ हाइवे से गुजर रहे हरियाणा के जयसिंहपुरा निवासी पहलू खां और उसके साथियों को कुछ लोगों ने पकड़ लिया था। भीड़ ने पहलू खां और उसके साथियों के साथ मारपीट की। मारपीट में गंभीर रूप से घायल पहलू खां की बहरोड़ के निजी अस्पताल में उपचार के दौरान 4 अप्रेल को मौत हो गई थी। प्रकरण में पुलिस ने बहरोड़ निवासी विपिन यादव, कालूराम, दयानंद, रविंद्र कुमार, योगेश कुमार, भीम राठी व दीपक उर्फ गोलू को गिरफ्तार किया। वहीं, दो बाल अपचारी निरुद्ध किए गए। प्रकरण में अभियोजन पक्ष की ओर से 44 गवाह कराए गए हैं। प्रकरण में 7 जुलाई को दोनों पक्षों की तरफ से अंतिम बहस पूरी होने के बाद न्यायाधीश सरिता स्वामी ने फैसले के लिए 14 अगस्त की तारीख पेशी तय की। उल्लेखनीय है कि प्रकरण में 7 मुल्जिमों के खिलाफ अपर जिला एवं सत्र न्यायालय संख्या-1 में सुनवाई चल रही है, जबकि दो बाल अपचारियों के खिलाफ बाल न्यायालय में सुनवाई की जा रही है।