स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अलवर : निकाय चुनाव में पति-पत्नी का कथित ऑडियो सामने आने के बाद भाजपा के विधायक और पूर्व विधायक ने दिया बयान

Lubhavan Joshi

Publish: Nov 30, 2019 12:56 PM | Updated: Nov 30, 2019 12:56 PM

Alwar

Alwar Nikay Chunav Audio Viral : अलवर में क्रॉस-वोटिंग मामले की आंच भाजपा नेताओं तक पहुंची है। ऑडियो सामने आने के बाद भाजपा खेमे में बैचेनी।

अलवर . अलवर नगर परिषद के सभापति चुनाव में क्रॉस वोटिंग की आंच अब भाजपा नेताओं तक पहुंचने लगी है। क्रॉस वोटिंग को लेकर गुरुवार को वायरल ऑडियो टेप में एक पार्षद व उनके परिजनों की बात ने कई खुलासे किए हैं। आपसी बातचीत में पार्टी से जुड़े कुछ बड़े नेताओं के क्रॉस वोटिंग से जुड़ाव को लेकर संकेत दिए गए हैं।

नगर परिषद अलवर के चुनाव में क्रॉस वोटिंग के चलते भाजपा के हाथ से सभापति की कुर्सी फिसल गई। हालांकि उप सभापति का चुनाव जीत भाजपा कुछ हद तक अपनी साख बचाने में कामयाब रही, लेकिन क्रॉस वोटिंग की आंच अभी पूरी तरह बुझ नहीं पाई है। अब क्रॉस वोटिंग को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। वायरल हुए एक ऑडियो टेप ने क्रॉस वोटिंग की आंच को और सुलगा दिया है। अब यह आंच पार्टी के कुछ बड़े नेताओं तक पहुंचने लगी है। बातचीत में आए बाबा शब्द ने आरोप प्रत्यारोप को और हवा दी है।

दोनों ओर चर्चा

अलवर नगर परिषद सभापति चुनाव में क्रॉस वोटिंग की चर्चा वैसे तो दोनों ओर है, लेकिन भाजपा खेमे में बैचेनी ज्यादा है। चर्चा है कि सभापति चुनाव में भाजपा खेमे में क्रॉस वोटिंग करने वालों की संख्या 10 तक पहुंच गई। इसी चुनाव में कांग्रेस खेमे से क्रॉस वोटिंग करने वालों की संख्या चार रही। उप सभापति के चुनाव में भाजपा खेमे से चार व कांग्रेस खेमे से चार की चर्चा रही। दो निर्दलीय पार्षदों के भी भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में वोट करने की चर्चा रही। नगर परिषद अलवर के चुनाव में इस बार बड़े पैमाने पर हुई क्रॉस वोटिंग से दोनों ही पार्टी सकते में हैं। दोनों ही पार्टियों के नेताओं ने क्रॉस वोटिंग करने वाले पार्षदों को चिह्नित करने का कार्य भी शुरू कर दिया है, लेकिन वायरल ऑडियो से उभरे कई सवाल पार्टी नेताओं के साथ ही अन्य लोगों को भी बैचेन किए हुए हैं।

ढिलाई का परिणाम

अलवर नगर परिषद चुनाव में हुई क्रॉस वोटिंग पार्टी के लिए बेहद चिंताजनक है। यह पूर्व में बरती गई ढिलाई का परिणाम है। पूरे मामले की उच्च स्तर से जांच होनी चाहिए और जो भी दोषी हैं उनके खिलाफ पंचायत चुनाव से पहले ही सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। वायरल ऑडियो में आए बाबा शब्द से मेरा कोई मतलब नहीं है। कुछ नजदीकी मित्र ही मुझे बाबा कहते हैं। पार्टी में इस नाम से उन्हें कोई सम्बोधित नहीं करता है।
रामहेत यादव, पूर्व विधायक, किशनगढ़बास।

ऑडियो की सत्यता की जांच कराई जाएगी

वायरल ऑडियो की सत्यता की जांच कराई जाएगी। जांच के बाद जो भी क्रॉस वोटिंग के दोषी साबित होंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रदेश नेतृत्व से आग्रह किया जाएगा। ऑडियो में बताए कुछ नामों की सत्यता का पता जांच के बाद ही चल पाएगा।
-संजय शर्मा, विधायक अलवर शहर

पति-पत्नी की निजी बात सुनना व टेप करना पाप

भारतीय संस्कृति में पति-पत्नी की निजी बात सुनना पाप माना जाता है। भाजपा भारतीय संस्कृति को मानने वाली पार्टी रही है। ऐसे में पति-पत्नी की निजी बातें सुनना और उसे टेप करना गलत है। ऑडियो में बाबा शब्द का उल्लेख हुआ है। भाजपा में पूर्व विधायक रामहेत यादव को भी बाबा के नाम से संबोधित किया जाता है।
-अजय पूनिया, पार्षद निर्दलीय

[MORE_ADVERTISE1]