स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अलवर शहर के सभी बाहरी इलाकों को जोडऩे वाले जगहों पर लगेंगे कैमरे

Prem Pathak

Publish: Dec 11, 2019 23:58 PM | Updated: Dec 11, 2019 23:58 PM

Alwar

अलवर शहर के सभी मुख्य आगमन द्वारों पर इसके साथ साथ शहर के बाहरी इलाकों से जोडऩे वाले स्थलों पर और कैमरे लगाए जाएंगे। इससे आपराधिक वारदातों पर काबू पाने में मदद मिलेगी।

अलवर.
अलवर शहर के सभी मुख्य आगमन द्वारों पर इसके साथ साथ शहर के बाहरी इलाकों से जोडऩे वाले स्थलों पर और कैमरे लगाए जाएंगे। इससे आपराधिक वारदातों पर काबू पाने में मदद मिलेगी।

जिला कलक्टर इन्द्रजीत सिंह एवं पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने आज कन्ट्रोल रूम स्थित अभय कमाण्ड सेंटर का अवलोकन कर प्रभारी अधिकारियों को इसके बेहतर संचालन के लिए दिशा-निर्देश प्रदान किए।
इस अवसर पर जिला कलक्टर ने बताया कि अभय कमाण्ड सेंटर प्रत्येक जिला मुख्यालय पर स्थापित किया गया है जिसके माध्यम से शहर के चप्पे-चप्पे पर कैमरों के माध्यम से पूर्ण निगरानी रखी जा रही है। अलवर शहर में करीब 15 कि.मी की रेंज में 210 कैमरों के माध्यम से शहर के प्रत्येक भीड़-भाड वाले स्थल पर हाई फ्री क्वेंंसी कैमरों से निगरानी हो रही है। उन्होंने इस अवसर पर डीओआईटी एवं पुलिस के अधिकारियों की बैठक लेकर अभय कमाण्ड सेंटर की प्रत्येक गतिविधि पर विस्तार से जानकारी लेकर इसे और बेहतर करने के दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को शहर के सभी मुख्य आगमन द्वारों पर इसके साथ साथ शहर के बाहरी इलाकों से जोडऩे वाले स्थलों पर और कैमरे लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को इसे और अधिक सशक्त बनाने के लिए आईटी एक्सपर्ट से सुझाव के साथ बेहतर संसाधन उपलब्ध कराने के लिए दिशा-निर्देशित किया।इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि अभय कमाण्ड के माध्यम से वाहनों की चोरियों की वारदातों, लूट की वारदात आदि के प्रकरण की जांच में इन कैमरों की रिकॉर्डिंग सहायक सिद्ध हो रही है। ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करने वाले लोगों के खिलाफ ई-चालान की कार्रवाई कैमरों की मदद से की जा रही है।

[MORE_ADVERTISE1]