स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बारिश में सडक़ बही, दोनों ओर टूटा सम्पर्क

Rajesh Mishra

Publish: Aug 11, 2019 17:49 PM | Updated: Aug 11, 2019 17:49 PM

Alirajpur

ग्राम काछला से कट्ठीवाड़ा तक नवनिर्मित सडक़ पर ग्राम खरकाली में रपट पानी के बहाव से बहा, वहीं चंद्रशेखर आजाद नगर से कट्ठीवाड़ा आने वाली सडक़ पर ग्राम मोरघा में भी पहले से टूटी पुलिया फि र बह गई

कट्ठीवाड़ा. ग्राम काछला से कट्ठीवाड़ा तक नवनिर्मित सडक़ पर ग्राम खरकाली में रपट पानी के बहाव से बह गई। वहीं दूसरी तरफ चंद्रशेखर आजाद नगर से कट्ठीवाड़ा आने वाली सडक़ पर ग्राम मोरघा में भी पहले से टूटी पुलिया फि र बह गई, जिसके कारण कट्ठीवाड़ा मुख्यालय का संपर्क दोनों ही तरफ से बंद हो गया है। ज्ञात रहे कि ग्राम मोरघा स्थित पुल तीन साल पहले नदी से बहाव से टूट गया था, तब से हर बार इसे केवल मुरम डालकर पुल को चलने लायक बना दिया जाता है और हर बार बारिश में यह पुल पानी के बहाव से टूट जाता है। पिछले वर्ष भी बरसात में मुरम बह जाने से कई दिनों तक चंद्रशेखर आजादनगर और कट्ठीवाड़ा के बीच संपर्क टूट गया था। इसी प्रकार इस वर्ष भी वही स्थिति निर्मित हो गई है। तीन वर्ष बीत जाने के बाद ही पुल का निर्माण नहीं किया गया। इसका खामियाजा कट्ठीवाड़ा की जनता को भुगतना पड़ रहा है। वहीं दूसरी तरफ कट्ठीवाड़ा से काछला मार्ग जो कि कुछ ही साल पहले बनकर तैयार हुआ था, उस सडक़ पर भी खरकाली में रपट टूटने से यातायात बंद हो गया है। क्षेत्र की खराब सडक़ों की शिकायतों की जाती रही, किन्तु प्रशासन की नींद खुलती ही नहीं।
लगातार बारिश से अंचल के नदी-नाले उफान पर
जोबट. विगत कई दिनों से अनवरत जारी वर्षा से बड़ी खट्टाली व आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में नदी-नाले उफ ान पर हैं।
बारिश ने लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया। मूसलधार बारिश के कारण हथनी नदी का लगातार जलस्तर बढऩे पर किनारे से लगी बस्ती व दुकान खाली कर दी गई। जिसे देखने ग्रामीणों की भीड़ उमड़़ी। वहीं फ ाटा डैम के आठों गेट खोल दिए गए, जिससे खट्टाली व आसपास के इलाकों में पानी नहीं भरे। जोबट-खट्टाली मार्ग पर डोही नदी भी उफान पर थी, जिससे पुल पर पानी आने के कारण कई घंटे तक यातायात प्रभावित रहा। जिले में हो रही झमाझम बारिश से जनजीवन भी अस्त-व्यस्त है व बारिश से लोग भी अब परेशान हो रहे हैं। पिछले 48 घंटे की अवधि में जिले में पिछले वर्ष की तुलना में अब तक जिले में दोगुनी वर्षा रिकॉर्ड दर्ज की गई है। जोबट अनुविभागीय अधिकारी अखिल राठौड़ एवं तहसीलदार आशा परमार ने समस्त राजस्व कर्मचारियों को निर्देश दिए कि लगातार वर्षा के मद्देनजर राजस्व अमला लगातार सावधानी बरतें। जिले में समस्त नदी-नालों, रपटों आदि जहां वर्षाजल के कारण तेज बहाव और पुल-पुलिया के ऊपर से पानी के बहाव की स्थिति हो वहां विशेष सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम सुनिश्चित किए जाएं। उन्होंने फाटा डैम और चंद्रशेखर आजाद परियोजना का बैक वाटर क्षेत्र में बढऩे वाले जल स्तर पर सतत निगरानी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले के समस्त छोटे-बड़े तालाबों, डैमों के जल स्तर की स्थिति पर भी नजर रखे जाने के निर्देश दिए।

KatthiwadaJobat