स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

‘प्रदेश सरकार ने वचन पत्र की मांग पूरी नहीं की तो भोपाल में होगा जंगी धरना’

Rajesh Mishra

Publish: Aug 07, 2019 18:05 PM | Updated: Aug 07, 2019 18:05 PM

Alirajpur

पेंशनर एसोसिएसन की बैठक में जिलाध्यक्ष सिसौदिया ने किया संबोधित

आलीराजपुर. पेंशनर एसोसिएशन की बैठक बस स्टैंड के समीप बुनियादी शाला में जिलाध्यक्ष व प्रांतीय महामंत्री प्रतापसिंह सिसौदिया की अध्यक्षता में हुई। बैठक में सिसौदिया ने बताया, 31 जुलाई को प्रांतीय अध्यक्ष ओपी बुधोलिया ने प्रदेश के समस्त जिलाध्यक्ष/संभागीय अध्यक्ष/ प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य व पदाधिकारियों की बैठक आयोजित की थी। इसमें आलीराजपुर जिले से सिसौदिया ने शामिल होकर जिले का प्रतिनिधित्व किया। भोपाल बैठक में कांग्रेस पार्टी द्वारा पेंशनरों को दिए चार वचन पत्र जो आज तक एक भी वचन पत्र पूरा नहीं किया गया।
जिलाध्यक्ष सिसौदिया ने बताया, मप्र में कांगे्रस की सरकार बने 7 महीने से अधिक हो गया है, फिर भी सरकार ने एक भी वचन पूरा नहीं किया है, जबकि उन्होंने 1 माह में वचन पूरा करने का वादा किया था। इस पर बैठक में विस्तृत चर्चा की गई। बैठक में 42 जिलाध्यक्ष व प्रदेश पदाधिकारी शामिल हुए। उन्होंने अपने-अपने विचार रखे। विगत महीनों में पूरे प्रदेश में तहसील/ जिलास्तर पर एकसाथ कलेक्टर व एसडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम वचन निभाने हेतु ज्ञापन दिए गए परंतु मध्यप्रदेश शासन ने अनदेखा कर अपना वचन पत्र का वादा आज तक नहीं निभाया। इससे पूरे प्रदेश में पेंशनरों में निराशा का वातावरण होकर आक्रोश है। अब यदि सरकार एक महीने में पेंशनरों की मांग स्वीकृत नहीं करती है तो प्रदेश के समस्त पेंशनर 26 सितंबर को पूरे प्रदेश से 10 से 15 हजार पेंशनर इक_े होकर भोपाल में जंगी धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपेंगे।
बैठक में यह भी तय किया गया कि 15 अगस्त को पूरे प्रदेश में तहसील व जिले पर जो भी सांसद, विधायक, प्रभारी मंत्री व जनप्रतिनिधि झंडावंदन करने आते हैं तो उन्हें तहसील व जिलास्तर पर उन्हें पेंशनरों की मांगों का ज्ञापन पेंशनर शाखा द्वारा मुख्यमंत्री के नाम सौंपेंगे।
बैठक में नटवरसिंह सिसौदिया, नरेन्द्र तंवर, एचवीएस मूर्ति, डॉ. एएम शेख, बाबूलाल चौहान, अरविंद गेहलोत, अनंतराम मिश्रा, केसी सिकरवार, ओपी करमदिया, रामेश्वर दीक्षित, अब्दुल मजीद खान, वीएस राम, छोटेलाल मोदी, कन्हैयालाल जोशी, भेरूसिंह चौहान, विजयसिंह चौहान, कन्हैयालाल त्रिपाठी, जीएल भाटिया, भुरला डावर, जोगेंद्र पवार, भुवान मंडलोई, मोहनकुमार मंडलोई, दयाराम पठोदे, अशोक कुमार बिश्या, खेमला रावत आदि उपस्थित थे।