स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

छात्रवृत्ति, आवास गृह राशि और छात्रसंघ चुनाव की मांग को लेकर प्रदर्शन

Rajesh Mishra

Publish: Jul 18, 2019 17:36 PM | Updated: Jul 18, 2019 17:36 PM

Alirajpur

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का करीब 2 घंटे तक चलता रहा धरना, सहायक आयुक्त नहीं आई, गुस्साए छात्रों ने आयुक्त के चेंबर के दरवाजे पर चिपकाया ज्ञापन

आलीराजपुर. छात्रवृत्ति, आवास गृह की राशि एवं छात्र संघ चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली से करवाने की मांग को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को विरोध प्रदर्शन किया। सभी छात्र और छात्राएं महाविद्यालय पर एकत्रित हुए, जहां से एक रैली के रूप में सबसे पहले कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। यहां काफी देर तक विरोध प्रदर्शन के बाद सभी लोग सहायक आयुक्त कार्यालय पहुंचे। जहां पर करीब 2 घंटे तक धरना-प्रदर्शन किया गया। छात्र ज्ञापन सहायक आयुक्त को ही देना चाहते हैं लेकिन लंबा इंतजार करने के बाद भी जब सहायक आयुक्त नहीं पहुंचे तो गुस्साए छात्र-छात्राओं ने ज्ञापन को सहायक आयुक्त मीना मंडलोई के चेंबर के बाहर दरवाजे पर चिपका दिया। इस दौरान अभाविप के विभाग संयोजक कृष्णा अजनारे और जिला संयोजक विनय चौहान ने कहा कि सरकार व प्रशासन छात्रों की आवाज दबाने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन विद्यार्थी परिषद हमेश छात्रों के हित में काम करते आया है और हमेशा करता रहेगा। इस दौरान कमलनाथ हाय हाय, हमारी मांगे पूरी करो, फूल नहीं चिंगारी है, हम भारत की नारी हैं, भारत माता की जय के नारे भी लगाए गए।
ये थे उपस्थित : ज्ञापन सौंपे जाने के दौरान अभाविप के विभाग संयोजक कृष्णा अजनारे, जिला संयोजक विनय चौहान, जिला संघठन मंत्री चर्चित चोकसे, पूर्व जिला संयोजक सुरेश मण्डलोई, दीपक कवचे, कीर्तन कनेश, चमन डावर, समरथ पचाया, प्रमोद कनेश, नीलेश सस्तिया, सुखराम सस्तिया, ओंकर चौहान, राकेश चौहान, शासकीय महाविद्यालय सोंडवा कॉलेज अध्यक्ष अमित जमरा, रणछोड़ ओहरिया, संजय डावर, संजय तोमर, सुनील डोडवा, दीपा रावत, अर्चना डोडवा, धुंधरी भिंडे, संगीता रावत, डेमली चौगड, दया वास्कले, संगीता सोलंकी, केन्दु तोमर, भावसिंह भीण्डे, भारत तोमर, गिलदार भीण्डे, भाया धाकड़, गोविन्द चोंगड़ समस्त छात्र-छात्राएं उपस्थित थे। ज्ञापन में मांग की गई कि छात्र हित में छात्र आवास योजना व मेधावी छात्र योजना मध्य प्रदेश में लागू किया जाए और छात्रसंघ चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली से करवाया जाए अन्यथा अभाविप प्रदेश सरकार के विरोध व छात्रों के सम्मान में प्रदेश भर में आंदोलन करेगी।
प्रतिभावान छात्रों के साथ अन्याय
ज्ञापन में बताया गया है कि 11 जुलाई को एक समाचार पत्र में प्रकाशित हुआ था कि छात्र आवास योजना व मेधावी छात्र योजना मध्य प्रदेश की वर्तमान सरकार द्वारा बंद कर दी गई है। यह निर्णय लाखों अजा, अजजा वर्ग व प्रतिभावान छात्र का गला घोंटने जैसा है। इससे मप्र सरकार के प्रति अजा, अजजा वर्ग के मेधावी छात्रों के मन में काफी आक्रोश है। मध्य प्रदेश सरकार अपना रुख स्पष्ट करे कि वह छात्र के हित में है या अहित में, क्योंकि पूर्व की प्रदेश सरकार में जो छात्र रूम किराए से रह कर अपनी पढ़ाई करते थे और उनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने से उन्हें प्रदेश सरकार द्वारा छात्रावास योजना के माध्यम से भत्ते के रूप में छात्रवृत्ति प्रदान की जाती थी एवं 12वीं में 75 प्रशित से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्रों को लैपटॉप व अन्य प्रकार की सुविधा पूर्व की सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जाती थी। यदि संपूर्ण प्रकार की छात्र हितैषी योजना वास्तव में प्रदेश की सरकार ने बंद कर दी है तो इससे लाखों अजा और आजजा व प्रतिभावान छात्रों का हनन किया जा रहा है। इससे कई छात्र शिक्षा से वंचित हो जाएंगे। अभाविप प्रदेश सरकार के इस छात्र विरोधी निर्णय का विरोध करती है।

 

ABVP Demonstration