स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पुल की मिट्टी बहने से आलीराजपुर-दाहोद मार्ग बंद, आवागमन हुआ बाधित

Rajesh Mishra

Publish: Aug 12, 2019 17:49 PM | Updated: Aug 12, 2019 17:49 PM

Alirajpur

बाढ़ से टेमाची व झिरण को जोडऩे वाले पुल के एक छोर पर बालू रेत का ढेर लग गया और दूसरे छोर पर पुल के पास से मिट्टी बह जाने से 3 फीट गहरा गडढा हो गया, ग्रामीणजन परेशान

झिरण. शुक्रवार को भारी बारिश के कारण नदी में आई बाढ़ से टेमाची व झिरण को जोडऩे वाले पुल के एक छोर पर बालू रेत का ढेर लग गया और दूसरे छोर पर पुल के पास से मिट्टी बह जाने से 3 फीट गहरा गडढा हो गया, जहां से कोई व्यक्ति पैदल भी नहीं निकल सकता। इन दोनों कारण के चलते झिरण, देकालकुआं, किलाना, जवास, बड़ा ईटारा आदि गांव का जिला मुख्यालय आलीराजपुर व दाहोद, गुजरात मार्ग से संपर्क टूट गया। साथ ही आम्बुआ थाने का झिरण चौकी से संपर्क टूट गया।
ग्रामीणों ने बताया, हमारे बालक-बालिकाओं को स्कूल और कॉलेज जाने और आसपास के गांव में स्थित रहवासी जिनमें से कई सरकारी नौकरीपेशा और मजदूर वर्ग के लोग हैं उन्हें भी इस परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बाढ़ के पानी की वजह से नदी किनारे के खेतों की फसल बर्बाद हो गई। झिरण निवासी सोनू कनेश का टीनशेड लगा मकान बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त हो गया। बाढ़ आए को तीन रोज हो गए हैं मगर जिम्मेदार विभाग का इस पर कोई ध्यान नहीं, ग्रामीणजन परेशान हो रहे हैं। जल्द से जल्द मार्ग को व्यवस्थित रूप से चालू नहीं किया गया तो कलेक्टर को इस समस्या की शिकायत की जाएगी।
वीर दुर्गादास राठौड़ की जयंती मनाई जाएगी
उदयगढ़. सकल पंच राठौड़ समाज की ओर से राष्ट्रवीर दुर्गादास राठौड़ की 381वीं जयंती मंगलवार को मनाई जाएगी। चार दिवसीय आयोजन का शुभारंभ शनिवार को व्यंजन व बच्चों की चेअर रेस प्रतियोगिता से हुआ। रविवार को बालिकाओं, महिलाओं की रंगोली और मेहंदी प्रतियोगिता हुई। समाज के अध्यक्ष नरेंद्र राठौड़, आशीष राठौड़ ने जानकारी देते हुए बताया, मंगलवार को प्रात: 9 बजे स्थानीय श्रीराम मंदिर से गाजे-बाजे के साथ शोभायात्रा का निकाली जाएगी, जो नगर भ्रमण करते हुए 11 बजे मांगलिक भवन पहुंचेगी। यहां पर राष्ट्रवीर दुर्गादास राठौड़ के व्यक्तित्व पर चर्चा के साथ समाजोत्थान के लिए समाज के लोग अपने विचार व्यक्त करेंगे। इस अवसर पर समाज के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं और उल्लेखनीय कार्य करने वाले समाज के लोगों को सम्मानित भी किया जाएगा।
धूमधाम से निकला दशा माता का जुलूस
नानपुर. दशा माता का जुलूस धूमधड़ाके व बैंडबाजों के साथ निकला। इस बार दशा माता की स्थापना रामू भाई प्रजापत पटेल के यहां की गई थी, जहां पर प्रतिदिन माताजी की आरती व महाप्रसादी का वितरण किया गया। समाज के राकेश प्रजापत ने बताया, प्रजापत समाज हर वर्ष दशा माता की स्थापना करता है, जिसमें समाज के सभी लोग उपवास रखते हैं। दशा माता का जुलूस ग्राम के प्रमुख मार्र्गों से निकाला गया। इसमें बड़ी संख्या मे महिलाओं, पुुरुष एवं बच्चियों ने उत्साह पूर्वक भाग लिया। जुलूस में युवतियों ने सफेद पोशाक व चुनरी के साफे व महिलाओं ने चुनरी पहनी हुई थी। उक्त जुलूस सभी मार्गों से निकला। माताजी का विसर्जन कोटेश्वर में किया गया।

alirajpur