स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पानी के बदले पांच युवकों को पिटाई के बाद पुलिस ने पिलाई थी पेशाब, थानेदार समेत चार सस्पेंड

Muneshwar Kumar

Publish: Aug 12, 2019 13:06 PM | Updated: Aug 12, 2019 13:06 PM

Alirajpur


MP: पांच युवकों के साथ बेरहमी से पिटाई करने वाले पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज

 

अलीराजपुर. मध्यप्रदेश की पुलिस ( MP Police ) अपने कारनामों की वजह से हमेशा चर्चा में रहती है। अलीराजपुर ( Alirajpur ) जिले में पुलिसकर्मियों ने नशे में पांच युवकों को पहले उल्टा करके पीटा। हद तो तब हो गई जब नशे में धुत पुलिसकर्मियों ने युवकों को पानी के बदले पेशाब पिलाई। यह घटना अलीराजपुर के नानपुर थाने की है। अब आरोपी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की गई है। एसपी ने चार पुलिसकर्मियों को निलंबित किया है।


अलीराजपुर एसपी विपुल श्रीवास्तव ने कहा है कि इसमें चार पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है। जिसमें नानपुर पुलिस स्टेशन के इंचार्ज भी शामिल हैं। इसके साथ ही विभागीय जांच उनके खिलाफ जारी है। दरअसल, पुलिस ने जिन नाबालिग युवकों की पिटाई की थी वो सभी नानपुर के फाटा डैम के पास पिकनिक मनाने आए थे। परिवार के लोगों ने आरोप लगाया था कि पुलिस ने पिटाई के बाद सभी को जबरदस्ती पेशाब पिलाया था।

 

थाना इंचार्ज की गाड़ी में शराब की बोतल
वहीं, इस मामले में एसडीओपी आरसी भाकर को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया था। एसडीओपी के अनुसार आरंंभिक जांच में मारपीट के आरोपी नानपुर थाना प्रभार दिनेश चौंगड़ पर लगे मारपीट के गंभीर आरोपों के सत्य होने की जानकारी मिली है। इधर थाना प्रभारी चौंगड़ के नाम से पंजीकृत और निजी उपयोग में लाई जा रहे स्कार्पियो वाहन से शराब की बोतलें, चखना और बर्तन आदि सामग्री भी मिली।

 

थाना परिसर में खड़ी थी गाड़ी
जिस गाड़ी से जांच के दौरान शराब की बोतलें मिली हैं, वो नानपुर थाना परिसर में ही खड़ी थी। जिसपर पुलिस लिखा हुआ था, एसडीओपी ने पंचनामा बनाकर इसे जब्त किया है। इसके साथ ही पांच घायलों के बयानों की वीडियो रिकॉर्डिंग की गई है। सभी जिला अस्पताल में भर्ती हैं। एसडीओपी आरसी भाकर ने सबसे अस्पताल जाकर बारी-बारी से बयान दर्ज किए हैं।

 

युवकों ने लगाए गंभीर आरोप
पूछताछ के दौरान घायल युवकों ने एसडीओपी आरसी भाकर को कई बयान दिए हैं। सभी युवकों ने अपने बयान में थाना प्रभारी चौंगड़ और अन्य पुलिसकर्मियों पर मारपीट के संगीन आरोप लगाए हैं। दरअसल, आरोप यह है कि इन युवकों ने 8 अगस्त की शाम को फाटा डैम पर आपसी विवाद में बीच बचाव करने सीविल ड्रेस में पहुंचे नाना थाना प्रभारी दिनेश चौंगड़ और अन्य आरक्षकों ने कथित रूप से मारपीट की।

 

घायलों को मिली जमानत
घायल आरोपी युवकों यशवंत बलवंत चौहान, विकास, आदित्य और राहुल हैं। हालांकि सभी आरोपी अभी भी इलाज के लिए जिला अस्पताल में ही भर्ती हैं। इनमें से तीन के हाथ और पैर में फ्रैक्चर है। दो अन्य को कुल्हों में सूजन है।