स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Heavy rain in ajmer : साहब! मोरी मत खुलवाओ, वर्ना हम बर्बाद हो जाएंगे

Himansu Dhawal

Publish: Aug 19, 2019 11:29 AM | Updated: Aug 19, 2019 11:29 AM

Ajmer

आम का तालाब क्षेत्र में पुलिस और जिला प्रशासन ने खुलवाई मोरी : कई घरों में भरा बारिश का पानी

 

अजमेर. साहब तालाब की मोरी मत खुलवाओ। हम बर्बाद हो जाएंगे। गलती उन लोगों की है जिन्होंने तालाब में मकान (House) बनाए है। तालाब (pond) की मोरी खोल दी तो खेतों में खड़ी फसल खराब (Crop failure) हो जाएंगी। हमारे पास आत्महत्या करने के अलावा और कोई चारा नहीं बचा है।
यह बात कहते हुए गुलाबबाड़ी स्थित आम का तालाब क्षेत्र के पाल के इस ओर रहने वाले कुछ लोगों की रुलाई फूट पड़ी। वहीं तालाब क्षेत्र में बने कई मकान बारिश (rain) के पानी के घिरे हुए हैं। पुलिस (police) और जिला प्रशासन (District administration) ने विरोध के बीच तालाब की मोरी खुलवाई।

Read more : डाई नदी में बहे युवक का दूसरे दिन भी नहीं लगा पता

इसके बाद पानी (water) की निकासी फिर से शुरू हो सकी। गुलाबबाड़ी आम का तालाब में सैकड़ों मकान बन गए हैं। स्थिति यह है कि वहां पर बारिश के पानी की निकासी नहीं है। तालाब के दूसरी ओर पाल बनी हुई है। उसमें मोरियां बनी हुई है। तालाब की पाल के इस ओर रहने वाले लोगों ने मोरी में प्लास्टिक के कट्टों (Plastic bags) में बजरी भरकर डाल दिए। इससे पानी की निकासी पूरी तरह बंद हो गई। पिछले दो दिनों से हो रही बारिश के कारण आम का तालाब क्षेत्र में पानी भर गया। पानी की निकासी (water drainage) नहीं होने के कारण आम का तालाब के क्षेत्रवासियों ने गुलाबबाडी रोड पर जाम (Jam on Gulabbadi Road) लगा दिया। पुलिस ने जाम को तुरंत खुलवाया दिया। सूचना पर जिला प्रशासन और दक्षिण वृत में आने वाले चारों थाने का जाब्ता और थाना प्रभारी भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने लोगों से समझाइश का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माने। इस दौरान तालाब की मोरी (Pond sluice) में से प्लास्टिक के कट्टे हटाते ही पानी की निकासी शुरू हो गई। इससे तालाब की पाल के इस ओर रहने वाले लोगों ने प्रदर्शन किया। पुलिस (police)ने विरोध को दरकिनार कर पानी की निकासी शुरू करा दी। बारिश का पानी जहां पर भर रहा है वहां पर पंप लगाकर पानी (water) को नाले तक पहुंचाया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि तालाब में नियम विरूद्ध मकान बनने और तालाब (pond) के पानी की निकासी का मार्ग अवरूद्ध होने के कारण यह परेशानी हो रही है। इस दौरान तहसीलदार गुरुप्रसाद तंवर, गिरदावर हरजीराम यादव, पटवारी विनोद कुमार, अलवर गेट, आदर्शनगर, क्लाक टावर और रामगंज थाना प्रभारी और पुलिस का जाप्ता की मौजूदगी में मोरी खोली गई।