स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Beawar : संभल कर चलना! यहां सड़क पर गड्ढे नहीं गड्ढों में सड़क है...

dinesh sharma

Publish: Jul 21, 2019 02:39 AM | Updated: Jul 21, 2019 02:39 AM

Ajmer

जिला कलक्टर के आदेश दरकिनार, रोक के बावजूद खोदी जा रही हैं सड़कें, बरसात में बढ़ेगा वाहन चालकों का संकट

 

ब्यावर (अजमेर).

अगर आप ब्यावर की सड़क पर चल रहे हैं तो जरा संभलकर। क्योंकि यहां सड़कों पर गड्ढे नहीं गड्ढों में सड़क जैसे हालात हैं। बरसात के समय में हादसों की आशंका को देखते हुए सड़क खुदाई पर जिला कलक्टर ने रोक लगा दी, लेकिन ब्यावर के शहरी क्षेत्र में इसके बावजूद सीवरेज के लिए लाइन बिछाने के लिए जेसीबी से खुदाई का काम चल रहा है।

पहले जहां खुदाई हुई, वहां भी सड़कें व गड्ढे भी दुरुस्त नहीं हुए। जिन क्षेत्रों में पानी भरने की समस्या रहती है। ऐसे क्षेत्रों में भी खुदाई की जा रही है। इससे हादसा होने की आशंका बनी रहती है और बरसात के दौरान संकट बढ़ेगा।

जिला कलक्टर ने गत दिनों आदेश जारी किए कि बरसात के दौरान गड्ढ़ों के कारण हादसे कारित नहीं हो, ऐसे में वर्षाकाल के दौरान खुदाई पर रोक लगाई। इन आदेश को हुए करीब एक पखवाड़े का समय निकल चुका है। इसके बावजूद शहर में खुदाई का काम लगातार चल रहा है।

हालत यह है कि ऐसे क्षेत्रों में भी खुदाई की जा रही है। जहां आवागमन का दबाव रहता है। बरसात के दौरान भी पानी भरने की समस्या रहती है।

हाल में डिग्गी मोहल्ला, लौहारान चौपड़, नगर परिषद मार्ग, फतेहपुरिया चौपड़ से पंडित मार्ग की ओर सहित अन्य क्षेत्रों में खुदाई की जा रही है। ऐसे में बरसात के दौरान हादसे की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता।

हादसों की बढ़ेगी आशंका

लोहारान मार्ग पर सीवरेज की लाइन बिछाने का काम किया गया। इसके बाद इस मार्ग को वापस दुरुस्त नहीं कराया गया। सड़क के बीचों-बीच गहरा गड्ढा होने एवं मार्ग में आवागमन के दबाव के अनुरूप चौड़ाई कम होने से लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

इस कारण से हादसा होने की आशंका बढ़ गई है। मुख्य बाजार के पानी का दबाव भी इस मार्ग पर रहता है। इसके बावजूद इस मार्ग की सुध नहीं ली जा रही है।

READ MORE : सुबह से परेशान किए थी उमस, शाम को अचानक मेहरबान हुए मेघ

... तो और बढ़ाना पड़ेगा समय

सीवरेज लाइन बिछाने का काम अप्रेल माह में ही पूरा किया जाना था। नियत समय में सीवरेज का काम पूरा नहीं हो सका। ऐसे में दिसम्बर तक समयावधि बढ़ाने का प्रस्ताव दिया गया। काम की गति बढ़ाना तो दूर अब तक खोदी गई सड़कों को भी दुरुस्त नहीं किया जा सका है।

ऐसे में यह काम दिसम्बर में पूरा नहीं हो सकेगा। काम की गति से नजर टालने के लिए अब बरसात की आड में निर्धारित समयावधि बढ़ाने की तैयारी की जा रही है।

सीवरेज योजना : एक नजर

6 : अप्रेल 2017 कार्यादेश जारी

5 : अप्रेल 2019 कार्य होना था पूरा

31 : दिसम्बर 2019 तक कार्यावधि बढ़ाने का प्रस्ताव

 

खुदाई कार्य पर रोक लगा रखी है। डिग्गी मोहल्ले में चल रही खुदाई रोक दी है। जो खुदी पड़ी सड़कें हैं, उनको भी दुरुस्त किया जा रहा है।

ओमप्रकाश चौधरी, एईएन, नगर परिषद